जानिये २६ जनवरी से जुड़े रोचक तथ्य

0
1171

– पंडित दयानंद शास्त्री –

’भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 को इंडियन स्टैंडर्ड टाइम के अनुसार 10 बजकर 18 मिनट पर लागू हो गया.

—–गणतंत्र दिवस के मौके पर अशोक चक्र और कीर्ति चक्र जैसे महत्वपूर्ण सम्मान दिए जाते हैं. इसके बाद परेड की मार्च पास्ट होती है.

—–भारतीय संविधान को तैयार करने में सैकड़ों विद्वान जुटे. लिखित संविधान में कई बार संशोधन होने के बाद इसे अपनाने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा.’

—–26 जनवरी 1950 को डॉ.राजेन्द्र प्रसाद ने गवर्नमेंट हाउस के दरबार हाल में भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली. इर्विन स्टेडियम में झंडा फहराया गया. यही पहला गणतंत्र दिवस समारोह था. मुख्य अतिथि थे इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णो.

—-गणतंत्र दिवस मनाने के हालिया तरीका 1955 में शुरू हुआ. इसी साल पहली बार राजपथ पर परेड हुई. राजपथ परेड के पहले चीफ गेस्ट पाकिस्तान के गवर्नर जनरल मलिक गुलाम मोहम्मद थे.

—-संविधान बनाने के लिए जिस कमेटी का गठन किया गया, उसके अध्यक्ष डॉ. भीमराव अम्बेडकर थे.

——भारतीय संविधान में संसदीय शासन पद्धति, लोकसभा तथा विधानसभा के प्रति मंत्रिमंडल का सामूहिक उत्तरदायित्व, राष्ट्र के प्रधान के रूप में राष्ट्रपति की औपचारिक स्थिति, संसद एवं विधानमंडलों की प्रक्रिया तथा संसद एवं विधानमंडलों के सदस्यों के विशेषाधिकार एवं उन्मुक्तियां ब्रिटेन के संविधान से ली गई हैं.

—–संविधान में संघ एवं राज्यों के मध्य शक्तियों का विभाजन कनाडा के संविधान से लिया गया है.

—-भारतीय संविधान में आपातदृउपबंध व्यवस्था जर्मनी के संविधान की गई है.

——सोवियत संघ के संविधान से मूल कर्तव्य और आस्ट्रेलिया के संविधान से समवर्ती सूची ली गई है. इसलिए ही कुछ विद्वानों ने भारतीय संविधान को ‘‘उधार का थैला’’ भी कहा है.

—–गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर तिरंगा फहराया जाता है. फिर नेशनल एंथम गाया जाता है और 21 तोपों की सलामी होती है.

——1957 में सरकार ने बच्चों के लिए राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार शुरू किया. यह पुरस्कार 16 साल से कम उम्र के बच्चों को अलग-अलग क्षेत्र में बहादुरी के लिए गणतंत्र दिवस पर दिया जाता है.

—–31 दिसंबर 1929 की मध्यरात्रि को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का लाहौर में अधिवेशन हुआ. इस अधिवेशन में पहली बार तिरंगा फहराया गया. फैसला किया गया कि हर साल 26 जनवरी का दिन ‘‘पूर्ण स्वराज दिवस’’ के रूप में मनाया जाएगा. इसे भारतीयों का समर्थन मिला और यह दिन अघोषित रूप से भारत का स्वतंत्रता दिवस बन गया.

—–बहुत कम लोगों को पता है कि 1955 से पहले गणतंत्र दिवस समारोह राजपथ पर आयोजित नहीं होता था. 1954 तक गणतंत्र दिवस समारोह किंग्सवे, लाल किला और रामलीला मैदान में आयोजित किए गए.

——1961 के गणतंत्र दिवस समारोह की चीफ गेस्ट थी ब्रिटेन की क्वीन एलिजाबेथ.

— इस वर्ष 2014के गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि हैं- जापान के प्रधानमंत्री महामहिम श्री शिंजो अबे।.उनके साथ उनकी पत्नी श्रीमती श्रीमती अकी अबे भी रहेंगी..

—–भारतीय संविधान में संघात्मक शासन प्रणाली, मूल अधिकार, स्वतंत्र एवं निष्पक्ष न्यायपालिका तथा न्यायिक पुनरूअवलोकन का सिद्धांत और उपराष्ट्रपति का पद अमेरिका के संविधान से लिया गया है.

—-भारतीय संविधान में गणतंत्रात्मक शासन व्यवस्था फ्रांस के संविधान से प्रेरित है.

—-संविधान में राज्य की नीति के निर्देशक तत्व आयरलैंड के संविधान से लिए गए हैं.

—–395 अनुच्छेदों और 8 अनुसूचियों के साथ भारतीय संविधान दुनिया में सबसे बड़ा लिखित संविधान है.

—-26 जनवरी 1965 को हिंदी को राष्ट्रभाषा घोषित किया गया था .