डीजे बजा कर टिड्डियों को भगाएगी दिल्ली सरकार

0
6

नई दिल्ली = टिड्डी दल  टिड्डी दल गुरुग्राम से होते हुए अब दिल्ली में भी प्रवेश कर गया है।  टिड्डी दल के हमले की आंशका के मद्देनजर दिल्‍ली सरकार ने आपात बैठक बुलाई गई थी। इस बैठक में विकास सचिव, डिविजनल कमिश्नर, कृषि निदेशक और जिला मजिस्ट्रेट भी इसमें मौजूद रहे।बैठक के बाद गोपाल राय ने बताया कि टिड्डियों की छोटी टुकड़ी दिल्ली के बॉर्डर पर जसोला घाटी में घुस आई है। उन्होंने कहा, हमने वन विभाग को ढोल और  डीजे  बजाने और केमिकल छिड़काव करने का आदेश दिया है। दक्षिण, पश्चिम और दक्षिणी-पश्चिमी जिले के  कलेक्टरों  को डिविजनल कमिश्नर के माध्यम से निर्देश दिया गया है। इन जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। दिल्ली सरकार ने टिड्डियों के खतरे को देखते हुए एडवाइजरी जारी की है। इस एडवाइडरी में आपदा प्रबंधन को अलर्ट पर रहने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही टिड्डी दल से निपटने के उपायों पर भी चर्चा की गई है। दिल्ली सरकार के प्रशासनिक दल ने टिड्डी दल पर नियंत्रण पाने के लिए अपनी तैयारी पूरी कर ली है।
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि टिड्डियों ने हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, यूपी, एमपी, गुजरात और महाराष्ट्र में फसलों को नष्ट कर दिया है। भारत सरकार को उन राज्यों और किसानों को सहायता प्रदान करनी चाहिए जिन्होंने इस खतरे को झेला है।गुड़गांव और रेवाड़ी में टिड्डियों के दल के पहुंचने के बाद हरियाणा सरकार ने भी हाई-अलर्ट जारी किया है और अधिकारियों ने कहा कि ट्रैक्टर पर दवा छिड़कने वाली मशीन लगाने समेत सभी जरूरी उपाय किए गए हैं। राजस्थान से पहुंचा टिड्डियों का यह दल महेंद्रगढ़ जिले से गुजरते हुए शुक्रवार शाम रेवाड़ी जिले के जतुसाना और खोल प्रखंडों के विभिन्न गांवों में फैल गया।