पापियों का विनाश तो पुण्य का काम है शिवराज सिंह ने कहा

0
58

भोपाल = कमलनाथ सरकार को गिराने के अपने एक आडिओ क्लिप  वायरल  होने के बाद  प्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान  ने ट्वीट कर कहा है कि पापियों का विनाश तो पुण्य का काम है।दरअसल, इंदौर के एक कार्यक्रम का ऑडियो क्लिप लीक होने के बाद कांग्रेस बोली थी कि अब सच्चाई सामने आ गई है कि सरकार असंतोष की वजह नहीं गिरी है। बीजेपी के लोगों ने साजिश रच कर सरकार गिराई थी।  शिवराज ने लिखा कि पापियों का विनाश तो पुण्य का काम है। हमारा धर्म तो यही कहता है। क्यों? बोलो, सियापति रामचंद्र की जय। चौहान इंदौर दौरे के दौरान उपचुनाव को लेकर वह बीजेपी नेताओं के साथ बैठक कर रहे थे। बैठक में संबोधन के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि आलाकमान से निर्देश मिलने के बाद एमपी में कमलनाथ की सरकार गिराई। साथ ही शिवराज ने कहा था कि तुलसी सिलावट और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बिना ये संभव था क्या। इसी बात पर एमपी की राजनीति में घमासान मचा हुआ है। वायरल ऑडियो क्लिप में जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट का भी जिक्र है। सीएम शिवराज इन्हें ही जीताने की अपील कर रहे थे। तुलसी ने ऑडियो क्लिप को लेकर कहा है कि कांग्रेस के पास अब कोई काम नहीं बचा है। सीएम ने जो कुछ भी कहा है कि वह सबके सामने है, मैं भी वहां मौजूद था। सीएम कार्यकर्ताओं से बात नहीं करेंगे तो किससे बात करेंगे।
पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि कमलनाथ की सरकार ने हर माफियाओं के खिलाफ एक अभियान छेड़ा था। अवैध कारनामों में बीजेपी के लोग शामिल थे। ये अभियान शिवराज सिंह चौहान को बर्बाद करने वाला था। इससे बीजेपी के लोग परेशान थे। इसलिए सरकार गिराने की साजिश रची है। इसे शिवराज सिंह चौहान ने खुद स्वीकार किया है।