10 राज्यों में 24 घंटों में कोरोना का कोई भी केस सामने नहीं आया

0
62

नई दिल्‍ली = कोरोना वायरस  के मामले में   एक अच्‍छी खबर आई।  10 राज्‍य/केंद्र शासित प्रदेश ऐसे हैं जहां पिछले 24 घंटों में कोरोना का कोई केस नहीं आया है। ये 10 राज्‍य उन चार राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों से अलग हैं जहां कोरोना वायरस का एक भी मामला अबतक नहीं मिला है। इन चार राज्‍यों में सिक्किम, नगालैंड और लक्षद्वीप शामिल हैं। अब अंडमान निकोबार, अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मणिपुर और मिजोरम में कोरोना वायरस के कोई ऐक्टिव मामले नहीं हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बताया कि पिछले 3 दिन में कोरोना वायरस का डबलिंग रेट 12 दिन रहा है। उन्‍होंने कहा कि भारत में रिकवरी रेट 30 पर्सेंट से ज्‍यादा हो गया है। हालांकि देश की मृत्‍यु दर अभी 3.3 प्रतिशत पर बनी हुई है। हर्षवर्धन ने कहा कि देश में 4,362 कोविड केयर सेंटर  तैयार किए गए हैं। यहां हल्‍के लक्षणों वाले करीब साढ़े तीन लाख मरीजों को रखा जा सकता है। उन्‍होंने बताया कि केंद्र सरकार ने राज्‍यों को 72 लाख N95 मास्‍क भेजे हैं। इसके अलावा, उन्‍हें 36 लाख पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट्स  किट्स भी मुहैया कराई गई हैं।
केंद्र सरकार ने शनिवार को कोरोना मरीजों को डिस्‍चार्ज करने की पॉलिसी में बदलाव किया था। नई गाइडलाइंस के मुताबिक, जो मामले बेहद हल्‍के हैं, वैसे मरीजों की तबीयत ठीक लगने पर 10 दिन में अस्‍पताल से छुट्टी दी जा सकती है। उनके टेस्‍ट की जरूरत नहीं होगी। मॉडरेट केस में रेगुलर टेम्‍प्रेचर और ऑक्‍सीजन सैचुरेशन के चेकअप होंगे। इसमें भी हालात सुधरने पर बिना टेस्‍ट डिस्‍चार्ज किया जा सकता है। गंभीर मरीजों को को पहले की तरह टेस्‍ट में नेगेटिव आने पर ही डिस्‍चार्ज किया जाएगा। हालांकि अब होम आइसोलेशन पीरियड को 14 दिन से घटाकर 7 दिन कर दिया गया है। डिस्‍चार्ज पॉलिसी में बदलाव का असर भारत में कोरोना वायरस के आंकड़ों पर जल्‍द दिखना शुरू हो जाएगा।