ज्योतिरादित्य सिंधिया को केंद्र में मंत्री बनाया जाए, समर्थकों की मांग

1
108

भोपाल। = मध्य प्रदेश में पूर्व कमलनाथ सरकार को पलटने में अपनी प्रमुख भूमिका  निभाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को केंद्र  में  मंत्री बनाया   जाए इस मांग को लेकर उनके समर्थक प्रदेश की राजधानी भोपाल में लामबंद हो गए है  शिवराज कैबिनेट में खाद्य आपूर्ति मंत्री और सिंधिया समर्थक गोविंद सिंह राजपूत ने  बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा से मुलाकात की। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि ज्योतिरादित्य सिंधिया केंद्र में मंत्री बनें। सिंधिया समर्थक कई नेताओं ने भोपाल में  बीजेपी के आला नेताओं से मुलाकात की है। इसके साथ ही कुछ लोगों ने सीएम शिवराज सिंह चौहान से भी मुलाकात की है। खाद्य आपूर्ति मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि हम चाहते हैं कि सिंधिया जी केंद्र में मंत्री बनें, लेकिन इसका निर्णय पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व करेगा। राजपूत ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ उपचुनाव को लेकर चर्चा की। उन्होंने यह भी कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में 24 सीटों पर उपचुनाव जीतना हमारी पहली प्राथमिकता है। वहीं, एमपी में मंत्रिमंडल विस्तार पर कहा कि यह मुख्यमंत्री का अधिकार क्षेत्र है।  गोविंद सिंह राजपूत, ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक हैं। कमलनाथ की सरकार में भी राजपूत परिवहन मंत्री थे। सिंधिया के बगावत के बाद गोविंद सिंह राजपूत ने भी मंत्री पद से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गए थे। कांग्रेस में रहते हुए भी गोविंद सिंह राजपूत, ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग करते थे।
तत्कालीन सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री रहीं इमरती देवी ने भी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा से मुलाकात की है। इसके बाद इमरती देवी ने सीएम शिवराज सिंह चौहान से भी उनके सरकारी आवास पर जाकर मुलाकात की।
इमरती ने सीएम से मुलाकात के बाद कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में निर्णय पार्टी लेगी। मैंने सीएम के साथ क्षेत्रीय मुद्दों पर बात की है और उनकी शादी की सालगिरह की बधाई दी है। छोटी मुलाकात के दौरान मंत्रिमंडल को लेकर कोई बात नहीं हुई।