अब दिल्ली की हार पर सिंधिया ने भी सवाल उठाये

0
145

नई दिल्ली = दिल्ली में लगातार दो बार से शून्य सीटों पर बरकरार कांग्रेस पर पार्टी के वरिष्ठ नेता भी कभी पार्टी की रणनीति पर सवाल उठा रहे हैं अब पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी को रणनीति बदलने की सलाह दी है। वहीं, हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने दिल्ली चुनाव में कांग्रेस के प्रभारी रहे पीसी चाको पर निशाना साधा है। पार्टी की दिल्ली इकाई के बाद अब केंद्रीय नेतृत्व भी निशाने पर आ गया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि कांग्रेस को नई सोच और नई रणनीति पर काम करने की आवश्यकता है। वहीं, हरियाणा के पूर्व सीएम और वरिष्ठ कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी पीसी चाको को आड़े हाथ लिया है।
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मंगलवार को इस्तीफा सौंप दिया था।
आम आदमी पार्टी से कांग्रेस में आईं अल्का लांबा भी चुनाव नतीजों के बाद से ही ‘नई टीम’ बनाकर मेहनत करने की बात कर रही हैं। अल्का लांबा चांदनी चौक सीट से लड़ीं और बुरी तरह हारीं। उन्हें पांच हजार से भी कम वोट मिले। गौरतलब है कि दिल्ली के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी एकजुट होकर कभी नहीं दिखी। पार्टी में कई धड़े अलग-अलग चले, जिसका खामियाजा उसे भुगतना पड़ा। इसके अलावा पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने भी दिल्ली चुनाव में खास रुचि नहीं दिखाई।