बैंक डिपाजिट की गारंटी 1 लाख से 5 लाख हुई

0
100

नई दिल्ली = बजट में सरकार ने बैंक डिपॉजिट को लेकर बड़ा ऐलान किया है। बैंक जमा पर अब 5 लाख रुपये तक की गारंटी मिलेगी। यानी बैंक में 5 लाख रुपये रहेंगे बिल्कुल सेफ। बैंकों में पैसा जमा कराने वालों के लिए इंश्योरेंस कवर 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये कर दिया गया है। अगर बैंक डूबता है तो जमाकर्ता 5 लाख रुपये तक की जमा रकम उसे वापस मिल जाएगी, इतनी रकम सुरक्षित रहेगी।
दरअसल पंजाब ऐंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक से जुड़े मामले में सरकार और आरबीआई को आलोचना का सामना करना पड़ा था। पिछले साल सितंबर में बैंक का कामकाज बंद हो गया था। इससे हजारों जमाकर्ता फंस गए थे। बैंक क्राइसिस को देखते हुए डिपॉजिट कवर को दोगुना करने से बैंक खाताधारकों को बड़ी राहत मिलेगी।’ बहरहाल, इस मोर्चे पर वित्त मंत्री ने उम्मीद से ज्यादा दिया।
अभी तक एक लाख रुपये तक की जमा रकम पर इंश्योरेंस कवर है और अगर बैंक डूब जाए तो इस लिमिट से आगे की जमा रकम की वापसी की गारंटी नहीं है। यह कम्पनसेशन तय किए हुए 25 साल से ज्यादा हो चुके हैं।
डिपॉजिट कवर बढ़ाने का मुद्दा फाइनैंशल रिजॉल्यूशन ऐंड डिपॉजिट इंश्योरेंस बिल के समय उठा था, जिसे पिछली सरकार ने 2017 में पेश किया था। हालांकि अगले ही साल बिल संसद से वापस ले लिया गया। क्रॉस कंट्री डिपॉजिट इंश्योरेंस कवरेज लिमिट के डेटा से पता चलता है कि भारत में डिपॉजिट इंश्योरेंस कवरेज 1508 डॉलर का है, जबकि अमेरिका में यह 250,000 डॉलर्स और ब्रिटेन में 111,143 डॉलर का है। इस ऐलान से खासतौर से सीनियर सिटिजंस को फायदा मिलेगा, जो अपने बुढ़ापे में डिपॉजिट इंटरेस्ट पर निर्भर रहते हैं।’