पतझड़ का प्यार शादी में बदला

0
133

केरल – कहते है मोहब्बत की कोई उम्र नहीं होती केरल के त्रिसूर जिले के रामवरमपुरम में स्थित सरकारी ओल्‍ड एज होम में रहने वाले 67 वर्षीय कोचनियान मेनन और 65 वर्षीय लक्ष्मी शादी के बंधन में बंध गए। दोनों एक-दूसरे को 30 सालों से जानते थे। दोनों की इस्मत ऐसी रही कि यह दोस्ती प्यार में बदल गई और उन्‍होंने शादी का फैसला किया।
शादी के दौरान लक्ष्‍मी लाल साड़ी और जूलरी में नजर आईं। अपने बालों में चमेली के फूलों से बना गजरा लगा रखा था। उधर, मेनन ने परंपरागत सफेद मुंडू और शर्ट पहन रखी थी।शादी में हिस्सा लेने के लिए केरल सरकार में राज्य मंत्री वीएस सुनील कुमार भी पहुंचे। पहले यह शादी 30 दिसंबर को होनी थी लेकिन लक्ष्‍मी ने पहले शादी करने पर जोर दिया।
सुबह करीब 11 बजे शादी होने के बाद मेहमानों को भोज भी दिया गया। मंत्री सुनील कुमार ने कहा कि यह मेरे जीवन का सबसे खूबसूरत पल है। यह शादी मेरे लिए यादगार रहेगी।मंत्री कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा संचालित ओल्ड एज होम में यह अपने तरह की पहली शादी है। दूल्‍हा और दुलहन दोनों ही जब मंडपम में पहुंचे तो बेहद खुश नजर आ रहे थे।
लक्ष्‍मी और मेनन पिछले 30 साल एक-दूसरे को जानते थे लेकिन पिछले कुछ वर्षों से उनका संपर्क कट गया था। मेनन लक्ष्मी के पति के सहायक हुआ करते थे जिनकी 21 साल पहले मौत हो गई थी।
पति की मौत के बाद लक्ष्मी अपने रिश्‍तेदारों के साथ रहती थीं और दो साल पहले वह ओल्‍ड एज होम में रहने लगीं। मेनन भी दो महीने पहले इसी ओल्‍ड एज होम में रहने आ गए। इसके बाद 30 साल की दोस्ती प्यार में बदल गई और दोनों ने शादी करने का फैसला किया।