पटाखों और परली से दिल्ली हुई प्रदूषित स्कूल 5 नवम्बर तक बंद

0
116

नई दिल्ली =दिल्ली-एनसीआर में एयर क्वॉलिटी इंडेक्स खतरनाक स्तर पर पहुंच गया और अब सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित एजेंसी ने गैस चैंबर जैसे हालात पर संज्ञान लेते हुए इसे पब्लिक हेल्थ इमर्जेंसी घोषित किया है।प्रदूषण की वजह से दिल्ली के सभी स्कूलों को 5 नवंबर तक बंद किया गया पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण ने पॉल्यूशन पर रोक लगाने के लिए 5 नवंबर तक दिल्ली-एनसीआर में निर्माण कार्य पर पूरी तरह से बैन लगा दिया है। दिल्ली में प्रदूषण के स्तर का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह भारत में सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में शामिल तो है ही, दुनिया का भी सबसे प्रदूषित शहर है।
एजेंसी ने दिल्ली, हरियाणा और यूपी के मुख्य सचिवों को चिट्ठी लिखकर जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। ईपीसीए के चेयरमैन भूरेलाल ने कहा, ‘दिल्ली-एनसीआर में वायु की गुणवत्ता में गिरावट आ रही है और यह बेहद गंभीर स्तर पर बना हुआ है। हमें इसे पब्लिक हेल्थ इमर्जेंसी के रूप में लेना होगा, क्योंकि इसका लोगों के स्वास्थ्य पर विशेषकर बच्चों पर असर होगा।’ उन्होंने सचिवों से कहा कि यह गंभीर स्थिति है और मैं आप लोगों का निजी हस्तक्षेप चाहता हूं ताकि निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जा सके। उन्होंने कहा, ‘ प्रदूषण की वजह दिवाली की रात पटाखों का जलाना, पराली जलाना और बेहद प्रतिकूल मौसम इसकी वजह है।
दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने इसपर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘दिल्ली में पराली के बढ़ते धुएं के चलते प्रदूषण का स्तर बहुत ज्यादा बढ़ गया है। इसलिए सरकार ने निर्णय लिया है कि दिल्ली के सभी स्कूल 5 नवंबर तक बंद रहेंगे।’
पाबंदियों के बावजूद दिवाली के मौके पर जमकर पटाखे फूटे जिसका नतीजा यह रहा कि दिल्ली-एनसीआर की हवा बेहद जहरीली हो गई है और लोगों का सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है। दिल्ली एनसीआर में कई जगह एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 500 के पार यानी खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है। बावजूद इसके लोग घरों में तो बंद रह नहीं सकते। ऑफिस, स्कूल इन सब कामों के लिए बाहर तो निकलना ही होगा।
आयुर्वेद कंसल्टेंट डॉ लिप्सा शाह सलाह देती हैं, घी या शहद के साथ एक चम्मच हल्दी का पाउडर लें, ध्यान रखें ये काम खाली पेट ही करें। हल्दी का पाउडर यूं ही नहीं खा पा रहे तो आप हल्दी वाला दूध पी सकते हैं। हल्दी वाला दूध बच्चे और बड़े दोनों के लिए फायदेमंद है। एक गिलास दूध लें और इसमें घी की कुछ बूंदें, अदरक का छोटा टुकड़ा, काली इलायची, तुलसी पत्ता, 1 लौंग और चुटकी भर हल्दी डालें। इसे 4 से 5 मिनट तक अच्छी तरह से उबलने दें औऱ फिर इसमें शहद डालकर इसे गर्मा गर्म पी लें।