अफसरों को गिरफ्तार न करे = चिदंबरम के परिजनो का ट्वीट

0
120

नई दिल्ली= तिहाड़ जेल में कैद काट रहे में पी. चिदंबरम ने आईएनएक्स मीडिया समूह को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड यानी फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्डकी मंजूरी देने में शामिल अधिकारियों को गिरफ्तार नहीं करने की गुजारिश की है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों में से किसी ने भी कुछ भी गलत नहीं किया है। पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के सीनियर लीडर चिदंबरम को आइएनएक्स मीडिया समूह को मंजूरी दिए जाने में अनियमितता के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।
चिदंबरम की ओर से उनके परिवार ने सोमवार को उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर यह टिप्पणी पोस्ट की। उन्होंने ये ट्वीट हिंदी में किए हैं। चिदंबरम ने कहा, ‘लोगों ने मुझसे पूछा कि ‘अगर आपको मामले के बारे में सुझाव देने और प्रक्रिया को आगे बढ़ाने वाले दर्जनों अधिकारियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो आप को क्यों गिरफ्तार किया गया? सिर्फ इसलिए की आपने अंतिम हस्ताक्षर किया?’ अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘मेरे पास कोई जवाब नहीं है। किसी अधिकारी ने कुछ गलत नहीं किया है। मैं नहीं चाहता कि किसी की गिरफ्तारी हो।’
चिदंबरम को सीबीआई ने आईएनएक्स मीडिया मामले में पिछले महीने 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था। फिलहाल वह न्यायिक हिरासत में हैं और तिहाड़ जेल में बंद हैं। आरोप है कि वित्त मंत्री के रूप में चिदंबरम के कार्यकाल के दौरान 2007 में 305 करोड़ रुपये का विदेशी फंड प्राप्त करने के लिए आईएनएक्स मीडिया समूह को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड ) की मंजूरी देने में अनियमितता बरती गई।
इसी मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो ने 15 मई, 2017 को प्राथमिकी दर्ज की थी। इसके बाद, प्रवर्तन निदेशालय ने इस संबंध में 2017 में ही मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था। यूपीए के 10 साल के शासन के दौरान चिदंबरम देश के गृह मंत्री और वित्त मंत्री रहे थे।