केरल कर्णाटक और महाराष्ट्र में भारी बारिश कई मरे

0
60

नई दिल्ली – देश के कई प्रदेशों में बारिश का कहर जारी है केरल, कर्नाटक और महाराष्ट्र में भीषण बारिश हो रही है जिसके चलते वंहा बाढ़ की स्थिति बन गयी है पिछले 72 घंटों में तीनों राज्यों में 93 जानें जा चुकी हैं। अकेले केरल में 42 लोगों की मौत हो चुकी है। केरल के वायनाड और मलप्पुरम में भूस्खलन के चलते 40 लोग अभी भी फंसे हैं जिससे मौत का आंकड़ा और बढ़ने की आशंका है। । रेस्क्यू ऑपरेशन में सेना और एनडीआरएफ की मदद ली जा रही है। भारतीय सेना, नेवी और एयरफोर्स के जवान लोगों को बचाने में जुटे हैं। बाढ़ प्रभावित चार राज्यों के 16 जिलों में 123 रेस्क्यू टीमें फंसे हुए लोगों को मदद पहुंचा रही हैं।
केरल में इस मॉनसून बारिश में 27 जबकि 7 लोगों की मौत शनिवार को हो गई। कुल मिलाकर यहां पिछले 72 घंटे में 42 लोगों की जान चली गई। यहां वायनाड और मलप्पुरम में बड़े भूस्खलन के चलते अभी 40 लोग फंसे हुए हैं जिससे मौत का आंकड़ा बढ़ने की आशंका है।
रेस्क्यू टीमों ने वायनाड से 8 शव बरामद किए हैं जबकि मलप्पुरम के पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन के चलते 10 लोगों की मौत हो गई जबकि 30 लापता हैं। मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने बताया कि अभी भी भूस्खलन में कई लोग लापता हैं इसलिए सही आंकड़ा बाद में ही पता चलेगा। केरल में अभी भी 20 से 40 सेमी की रफ्तार से बारिश हो रही है।
इधर कर्नाटक में भी हालत खराब है शुक्रवार को बारिश से 10 मौतें दर्ज की गई। राज्य में बारिश और बाढ़ के चलते मौत का आंकड़ा 22 हो गया है। केरल की तरह कोडगु में भी 7 लोग जिंदा दफन हो गए। इनमें से मदिकेरी में 5 और विराजपत में 2 लोगों की मौत हुई। विराजपत के इसी गांव में रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान 8 लापता बताए जा रहे हैं।
महाराष्ट्र में शुक्रवार को दो मौतें दर्ज की गई इससे पुणे डिविजन में मौत का आंकड़ा बढ़कर 29 हो गया है। महाराष्ट्र में अगले 24 घंटे काफी भारी हैं क्योंकि मौसम विभाग के अनुसार, केरल और कर्नाटक की तरह ही महाराष्ट्र, गोवा, मध्य प्रदेश और राजस्थान में भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान है।