परीक्षा में पूछा जय श्री राम नारे का समाज पर क्या दुष्प्रभाव पड़ रहा है

0
67

हुगली = पश्चिम बंगाल में ‘जय श्रीराम नारा’ और ‘कट मनी’ को लेकर एक नया हंगामा खड़ा हो गया है। दरअसल, यहां सरकारी स्कूल में 10वीं कक्षा की परीक्षा में जय श्रीराम नारे और कट मनी से जुड़े सवाल पूछे गए। प्रश्नपत्र में इन सवालों को लेकर पश्चिम बंगाल की सियासत एक बार फिर गरम हो गई है।
जानकारी के मुताबिक हुगली जिले के अकना हाईस्कूल में 10वीं की परीक्षा में ऐसे सवाल पूछे गए, जिन्हें पढ़कर छात्र भी दंग रह गए। छात्रों से पूछा गया कि जय श्रीराम के नारे से समाज पर क्या दुष्प्रभाव ? इसके विकल्प के रूप में छात्रों के सामने जो सवाल था, वह भी हैरान करने वाला था। इस सवाल में पूछा गया कि कट मनी लौटाकर भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के सरकार के साहसिक कदम को कैसे देखते हैं?
40 अंक के इस प्रश्नपक्षत्र में यह सवाल 5 अंक का था। इसके लिए अधिकतम 150 शब्दों में छात्रों को जवाब देना था। उधर, लगातार फजीहत के बाद स्कूल प्रशासन ने इस प्रश्न को कैंसल करने का फैसला किया है। प्रिंसिपल ने कहा है कि जिन भी बच्चों ने इन प्रश्नों को हल किया है, उन्हें पूरे अंक दिए जाएंगे। प्रिंसिपल ने यह भी कहा कि इस प्रश्नपत्र को तैयार करने वाले शिक्षक ने माफी मांग ली है। उधर, बीजेपी ने इस प्रश्नपत्र को लेकर जोरदार विरोध दर्ज कराते हुए स्कूल प्रशासन और सत्तारूढ़ टीएमसी पर हमला बोला है।
उल्लेखनीय है कि जय श्रीराम के नारे को लेकर लोकसभा चुनावों के दौरान से ही सूबे में बवाल मचा हुआ है। सूबे की सीएम ममता बनर्जी यह आरोप लगा चुकी हैं कि बीजेपी ‘जय श्रीराम’ को पार्टी स्लोगन की तरह इस्तेमाल कर रही है।
‘कट मनी’ एक किस्म का कमिशन है जिसे नेता स्‍थानीय सरकारी परियोजनाओं या कल्‍याणकारी योजनाओं के लिए स्‍वीकृत धनराशि में से लाभार्थी को देते समय काट लेते हैं। इसके अलावा किसी सरकारी मंजूरी देने के एवज में भी ‘कट मनी’ लेने के आरोप टीएमसी के नेताओं पर लगते रहे हैं।