अयोध्या मामले की रोज सुनवाई का विरोध ख़ारिज हुआ

0
45

नई दिल्ली =सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या केस में अब सोमवार से शुक्रवार तक, हर दिन सुनवाई करने का फैसला किया है। सुनवाई में सबसे पहले मुस्लिम पक्ष ने रोजाना सुनवाई का विरोध किया। उनकी तरफ से कहा गया कि ऐसे में कोर्ट में ठीक से बहस नहीं हो पाएगी।
राजीव धवन, मुस्लिम पार्टी के वकील:ने कहा की ऐसी बातें कही जा रही है कि कोर्ट पांचों दिन सुनवाई करेगा। हमें इसपर आपत्ति है। अगर हफ्ते में 5 दिन सुनवाई होती है तो यह अमानवीय है। ऐसे में हम कोर्ट के साथ कैसे चल पाएंगे। सुनवाई में ऐसे जल्दी नहीं की जा सकती। ऐसे में मुझे केस छोड़ने पर मजबूर होना होगा।
इससे पहले, सोमवार और शुक्रवार के दिन रोजाना सुनवाई की प्रक्रिया से अलग हुआ करते थे। लेकिन, पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने कहा कि चूंकि मामला बेहद विस्तृत है और इसमें 14 पक्षकार हैं, इसलिए इसकी सुनवाई सप्ताह के तीन दिन नहीं, बल्कि पांच दिन होगी। अभी निर्मोही अखाड़ा और रामलला विराजमान अपना पक्ष रख रहे हैं।