क्या वाराणसी में प्रियंका को उतारेगी कांग्रेस

0
50

नई दिल्ली – नरेंद्र मोदी के लिए प्रतिष्ठा की सीट बनी वाराणसी से कांग्रेस ऐसे नाम पर विचार कर रही है जिसके सामने आने से मोदी को भी एक बार सोचना पद सकता है और वो चेहरा हो सकता है प्रियंका गांधी का
कांग्रेस में इस बात को लेकर चर्चा जारी है कि मोदी के खिलाफ किसे उतारा जाए। दिग्विजय सिंह का कहना है कि वह लड़ने को तैयार हैं, अजय राय का कहना है कि बनारस में मोदी के खिलाफ स्थानीय नेता ही उतरना चाहिए। कांग्रेस मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को न्‍योता दे चुकी है, लेकिन अब वो जिस नाम पर विचार कर रही है, उससे भाजपा की नींदें उड़ सकती हैं।अब खबर आ रही है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रियंका गांधी को बनारस से लड़ाने की मांग की है। वो चाहते हैं कि मोदी से मुकाबला करने के लिए कांग्रेस अपना तुरुप का इक्का इस्तेमाल करे।लेकिन कांग्रेस की पुरानी सहयोगी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने भी कह दिया कि कांग्रेस को प्रियंका गांधी के नाम पर विचार करना चाहिए।
एनसीपी नेता तारिक अनवर ने सार्वजनिक रूप से कह दिया कि अगर कांग्रेस‌ प्रियंका गांधी को मैदान में उतरती है, तो मोदी को कड़ी टक्कर दी जा सकती है। उन्होंने एक चैनल से कहा, “अगर प्रियंका को उतारा जाता है, तो लड़ाई जमेगी। मोदी को कड़ी चुनौती दी जा सकेगी। अगर ऐसा हुआ, तो प्रियंका के नाम पर सभी सेकुलर दलों के बीच उन्हें साझा उम्मीदवार बनाया जा सकता है।”कांग्रेस में इस वक्‍त सबसे ज्यादा चर्चा उस नाम पर हो रही है, जिसे मोदी के खिलाफ उतारा जाएगा। अगर वो वाकई प्रियंका गांधी को मैदान में उतारती है, तो मुकाबला और दिलचस्प हो जाएगा।

हालांकि, अभी इस बारे में सटीक रूप से कुछ नहीं कहा जा सकता कि प्रियंका गांधी इस बात पर राजी होंगी या नहीं। कुछ दिनों पहले उनकी तरफ से साफ कर दिया गया था कि इस बार भी वह चुनावों में सक्रिय भूमिका से दूर रहेगी।

उन्होंने कहा था कि वह रायबरेली और अमेठी में चुनाव प्रचार का जिम्मा संभालेंगी, जैसा कि हमेशा करती रही है। रायबरेली से उनकी मां सोनिया गांधी मैदान में हैं और अमेठी से उनके भाई राहुल गांधी एक बार फिर चुनौती दे रहे हैं।