मुझे अपने आप को बिहारी कहने में भी शर्म आती है

0
105

समस्तीपुर = जन अधिकार पार्टी के प्रमुख और पूर्व सांसद पप्पू यादव को बिहारी कहलाने पर शर्म महसूस होती है। उन्होंने अपने समर्थकों से यहां तक कह दिया कि अगर उनकी मौत हो जाए तो उनका अंतिम संस्कार भी बिहार की धरती पर न किया जाए। पप्पू यादव ने कहा, ‘जेएनयू पर हमला हुआ तो सभी विश्वविद्यालय सड़क पर थे, यहां तक कि आंध्र प्रदेश में प्रदर्शन हो रहा था, लेकिन बिहार में नहीं हुआ, इसलिए मुझे बिहारी कहलाने पर शर्म आती है।’
पप्पू यादव ने नागरिकता संशोधन कानून, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ यहां आयोजित कार्यक्रम में कहा, ‘मैं कौन-से पागल देश और बिहार में पैदा हो गया। यहां बोलने की आजादी छीन ली जाती है। बिहारी कहलाने को लेकर मैं शर्मिंदा हूं। अगर मेरी मौत हुई तो मुझे बिहार की धरती पर मत जलाना।’
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, ‘वह (योगी आदित्यनाथ) आंदोलन कर रहे लोगों से बदला लेने की बात करते हैं। वह कहते हैं कि बदला लेंगे। क्या इन्हीं को बदला लेने आता है। आप शेर हो, तो सवा शेर भी हैं। मुसोलनी, हिटलर का इतिहास मिट गया तो तुम क्या चीज हो।’

‘..पप्पू यादव ने धमकी भरे अंदाज में कहा, योगी उत्तर प्रदेश में हैं और हम बिहार में हैं, यही गलती हो गई। यदि हम दोनों एक ही राज्य में पैदा हुए होते तो हम इनके सीने पर चढ़कर 32 हड्डियां तोड़ देते।’