सरदार को ताली तो उसे गाली भी मिलेगी

0
55

‘पटना = केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, बिहार की राजधानी पटना सहित अन्य इलाकों में बाढ़ और बारिश के बाद हुई बदइंतजामी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगातार हमलावर हैं। गिरिराज ने परेशानियों के लिए सीएम नीतीश को स्पष्ट तौर पर जिम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि अगर सरदार को ताली मिलती है तो उन्हें गाली भी मिलेगी।
बिहार में गठबंधन सरकार की अगुवाई कर रहे नीतीश की आलोचना करते हुए बीजेपी नेता गिरिराज ने कहा, ‘नीतीशजी 15 सालों से सत्ता में हैं, इसलिए उन्हें जिम्मेदारी लेनी चाहिए। निश्चित तौर पर ताली सरदार को तो गाली भी सरदार को, यह दुनिया की रीत है।’ गौरतलब है कि इससे पहले भी बिहार बाढ़ को लेकर गिरिराज सिंह राज्य सरकार की आलोचना कर चुके हैं। उन्होंने कहा था कि पटना का जलप्रलय प्राकृतिक आपदा नहीं, व्यवस्था की अव्यवस्था और सरकार की चूक है।
दो दिन पहले गिरिराज ने कहा था कि पटना में जलजमाव के लिए जनता नहीं नैशनल डेमोक्रैटिक अलायंस (एनडीए) जिम्मेदार है और हम जनता से क्षमा याचना करेंगे। अपने संसदीय क्षेत्र बेगूसराय में गिरिराज ने कहा, ‘मैं बेगूसराय से जनप्रतिनिधि हूं, अगर यहां कुछ नहीं होता है तो कमियों को हम स्वीकारेंगे और जनता से क्षमा याचना करेंगे। एनडीए का हिस्सा होने के साथ पटना में भी बीजेपी के कई सांसद हैं और वहां की जनता ने हमपर भरोसा किया। जो बाढ़ आई उसके लिए जनता नहीं हम जिम्मेदार हैं। हम जनता से क्षमा याचना करेंगे। मेरी पीड़ा पटना महानगर में बसे हुए लोगों को लेकर है, जिनका सारा सामान बर्बाद हो गया। हम पानी निकासी को लेकर सतर्क नहीं हो पाए। अगर हम सचेत हो जाते तो आज यह दिन नहीं देखना पड़ता।’
इससे पहले भी गिरिराज ने कहा था कि पटना के खराब हालत की एकमात्र वजह कुव्यवस्था है, प्राकृतिक आपदा नहीं। इस बीच, पश्चिम चंपारण के सांसद और बीजेपी के नवनियुक्त बिहार इकाई के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा, ‘पटना में जो हुआ है, वह प्रशासनिक विफलता का मामला है। राज्य सरकार को स्थिति की समीक्षा करनी चाहिए, जवाबदेही तय करनी चाहिए और अनुकरणीय कार्रवाई करनी चाहिए।’