मुंबई भारी बारिश से बेहाल एयरपोर्ट पर पंहुची मच्छलियाँ

0
228

मुंबई =लगातार चौथे दिन मूसलाधार बारिश से देश की आर्थिक राजधानी मुंबई बेहाल है। कहीं रोड पर घुटनों तक पानी है तो कहीं रेलवे स्टेशन पर जलभराव है। सड़कें तालाब में तब्दील होती दिख रही हैं। स्कूल-कॉलेज जाने वाले बच्चों, दफ्तर जाने वाले कर्मचारियों और कामगारों को इस वजह से काफी मुश्किल झेलनी पड़ रही है। शहर की लाइफलाइन लोकल के पहिए भी बारिश ने थाम दिए हैं। वहीं, कई इलाकों में ट्रैफिक जाम लग गया है। पालघर में भारी बारिश के बाद ट्रैक पर पानी इकट्ठा हो गया, जिससे कई ट्रेनें रद्द करनी पड़ीं।
भारी बारिश के बाद जुहू एयरपोर्ट के रनवे पर भी पानी भर गया। इस दौरान वहां रनवे के पास मछलियां तैरती दिखाई दीं। यहां कैटफिश मछलियों की भरमार देखकर बहुत से एयरपोर्ट अधिकारी और पायलट हैरान रह गए। रनवे पर मौजूद इन मछलियों में से कुछ तो तीन फीट तक लंबी थीं।
सोमवार सुबह से हो रही मूसलाधार बारिश के बाद हिंदमाता, सायन,अंधेरी, कुर्ला, बांद्रा, दादर, किंग सर्कल एरिया, चेंबूर इलाकों में जगह-जगह पानी भर गया है। हालत यह है कि बारिश का पानी लोगों के घरों में घुस गया है।
चेंबूर इलाके में एक कार पानी में डूबी नजर आई। माटुंगा इलाके में पुलिस स्टेशन के बाहर सड़क पर पानी भर गया। दादर ईस्ट इलाके में स्कूली बच्चे बारिश में भीगते और रोड पर जमा कई फीट पानी से गुजरकर स्कूल जाते दिखे। उधर बीएमसी स्टाफ ने दादर में जलभराव के बाद मैनहोल खोले हैं।
रेलवे ट्रैक पर जगह-जगह पानी जमा होने की वजह से लोकल ट्रेनें देरी से चल रही हैं। हार्बर लाइन के वडाला रोड स्टेशन पर ट्रेनें धीमी रफ्तार से चल रही हैं। सेंट्रल रेलवे की मेन लाइन पर ट्रेनों का संचालन चालू है। लोकल ट्रेनों के इकट्ठा होने की वजह से उन्हें धीरे-धीरे निकाला जा रहा है। सेंट्रल रेलवे ने कहा है कि लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। सेंट्रल रेलवे का कहना है कि लो विजिबिलिटी की वजह से लोकल ट्रेनें थोड़ी लेट चल रही हैं।
उधर भारी बारिश की वजह से मुंबई लोकल के सायन और माटुंगा रेलवे स्टेशनों के बीच ट्रैक पर पानी भर गया। तेज हवाओं की वजह से वेस्टर्न रेलवे की स्लो लाइन के मरीन लाइंस स्टेशन पर निर्माण कार्य में इस्तेमाल बांस ओवरहेड उपकरणों पर गिर गए। हालांकि फास्ट लाइन पर चर्चगेट-मुंबई सेंट्रल के बीच ट्रेनों के संचालन पर इसका असर नहीं पड़ा।
भारी बारिश की वजह से कई जगह ट्रैफिक जाम के हालात हैं। नवी मुंबई के नेरूल के पास सायन-पनवेल हाइवे पर पानी इकट्ठा हो गया। इसकी वजह से सड़क तालाब में तब्दील हो गई। वहीं, हाइवे से गुजर रहने वाहनों की रफ्तार भी थम गई। इसके साथ ही वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर भी ट्रैफिक रेंगता हुआ नजर आया।
गांधी मार्केट इलाके में सड़क पर जलभराव की वजह से एक बस खराब हो गई। किंग सर्कल इलाके में भी पानी इकट्ठा होने के कारण कई वाहन खराब हो गए। कई जगह ट्रैफिक को भी डायवर्ट किया गया है। मुंबई पुलिस ने अपने ऑफिशल ट्विटर अकाउंट से इस बात की जानकारी दी। गांधी मार्केट का ट्रैफिक भाऊ दाजी रोड और सुलोचना शेट्टी रोड, नैशनल कॉलेज, एसवी रोड से डायवर्ट किया गया है। बांद्रा (वेस्ट) का ट्रैफिक लिंक रोड से डायवर्ट कर दिया गया है।
वेस्टर्न रेलवे के मुताबिक मुंबई डिविजन के पालघर इलाके में रविवार रात को मूसलाधार बारिश हुई। इस दौरान 361 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। वहीं सुबह 4 बजे से 5 बजे के बीच एक घंटे के दौरान 100 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई है। यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए मुंबई-अहमदाबाद शताब्दी एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनों का या तो समय बदला गया है या उन्हें आंशिक रूप से रद्द किया गया है। कुछ ट्रेनों को डायवर्ट भी किया गया है। वेस्टर्न रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी हालात पर नजर बनाए हुए हैं।
मुंबई स्थित भारत मौसम विभाग के मुताबिक भारी बारिश से अभी शहर के लोगों को राहत नहीं मिलेगी। मौसम विभाग ने अगले दो दिन बारिश का पूर्वानुमान लगाया है। इसके साथ ही मुंबई, ठाणे, रायगड़ और पालघर में मूसलाधार बारिश जारी रहने का अनुमान है। वहीं, हाई टाइड का अलर्ट जारी करते हुए समुद्र के किनारे न जाने के निर्देश दिए गए हैं। समुद्र के किनारे ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही हैं। अनुमान है कि हाई टाइड में 4 मीटर से ज्यादा ऊंची लहरें उठ सकती हैं।