विवेक तन्खा की पहल पर किसानो ने तोडा अपना अनशन

0
181

जबलपुर मध्य प्रदेश = जिले की पाटन तहसील में स्थिर सरोद सोसायटी में गेंहू खरीद कोलेकर चल रहे विवाद के बाद पाटन तहसील के 20 गांवो के किसानो द्वारा किया जा रहा अनशन लोकसभा सीट के कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तन्खा की पहल पर ख़त्म हो गया है और प्रशासन ने किसानो की मांगे मान ली है
उल्लेखनीय है कि पाटन तहसील का सरोद केंद्र पिछले 25 वर्षों से गेंहू खरीद का केंद्र रहा है इसी केंद्र पर 20 गाँव के किसान अपनी फसल लाते रहे है इस बार भी यही हुआ और आसपास के 20 गावों के किसान अपनी फसल लेकर सरोद के सेंटर पंहुचे और वंहा करीब 60 हज़ार मेट्रिक टन गेंहू तुलाई के लिए पंहुच गया इसी बीच प्रशासन की तरफ से एक फरमान आया क़ि अब गेंहू की तुलाई सरोद केंद्र में नहीं बल्कि केंद्र से 5 किलोमीटर दूर स्थित वेयर हॉउस में की जाएगी अचानक आये इस फरमान ने किसानो को हतप्रभ कर दिया इस सम्बन्ध में भारत कृषक समाज महाकोशल ज़ोन के चेयरमेन के के अग्रवाल ने प्रशासन और लोकसभा में कांग्रेस के प्रत्याशी विवेक तन्खा से चर्चा कर उन्हें किसानो की समस्याए बताई और आग्रह किया की वे मामले को निबटानेमें उनका सहयोग करें के के अग्रवाल के आग्रह पर सरोद केंद्र पर पंहुच कर करविवेक तन्खा ने किसानो से बातचीतकी और जिला प्रशासन से किसानो की समस्या हल करने का आग्रह किया पर मामला जमा नहीं इस से नाराज किसानो ने अनशन शुरू कर दिया
जब किसानो की समस्याओं पर प्रशासन की तरफ से कोई उम्मीद नहीं दिखाई दी तब के के अग्रवाल ने रात पौने एक बजे विवेक तन्खा से फोन पर बात की और उन्हें बताया की उनके आग्रह के बाद भी प्रशासन अपनी बात पर अड़ा हुआ है और इसके विरोध में किसान लगातार अनशन कर रहे है इस सूचना पर विवेक तन्खा ने एक बार फिर उच्चाधिकारियों से संपर्क कर उन्हें तत्काल किसानो की समस्याओं को हल करने की बात कही जिस पर दूसरे दिन जिला आपूर्ति अधिकारी सी एस जादोन और अपेक्स बैंक के मैनेजर पंकज गुप्ता अनशन स्थल पर पंहुचे और उन्होंने तय किया की जो किसान अपनी फसल यंहा तक ले आये है उनकी तुलाई यही होगी और जो नहीं लाये है वे वेयर हॉउस में अपने गेंहू की तुलाई करवाएंगे
किसान नेता केके अग्रवाल ने समाचार विचार डॉट कॉम को बताया कि इस मामले में लोकसभा के कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तन्खा ने सहयोग दिया और उनकी पहल पर किसानो की समस्या का अंत हो पाया