एक बेटे को पिता से नहीं मिलने नहीं दिया जा रहा

0
99

रांची = रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद राष्‍ट्रीय जनता दल के अध्‍यक्ष लालू यादव के वार्ड में जेल अधिकारियों ने पिछले दिनों फिर छापा मारा था। छापेमारी के बाद लालू यादव से मिलने पहुंचे उनके छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव को उनसे मुलाकात नहीं करने दिया गया। इससे भड़के तेजस्‍वी यादव ने ट्वीट करके बीजेपी सरकार
तेजस्‍वी ने ट्वीट करके कहा, ‘कल शाम से रांची अस्पताल में इलाजरत अपने पिता से मिलने की प्रतीक्षा में हूं लेकिन तानाशाही बीजेपी सरकार नियमानुसार एक बेटे को अपने पिता से मिलने भी नहीं दे रही है। लालू यादव के साथ साजिश की जा रही है। जेल सुरक्षा में और वह भी अस्पताल में ईलाजरत रहते उनके कमरे में रोज छापामारी हो रही है।’
उन्‍होंने कहा, ‘दो सप्ताह पहले डॉक्टरों ने जेल अधीक्षक को लालू जी का इको और एक्‍सरे कराने को कहा था लेकिन ये दोनों चीजें इसलिए नहीं हो पा रही हैं क्‍योंकि उन्हें दूसरी बिल्डिंग में ले जाने के लिए सुरक्षा उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। यह अन्याय है। सही व्यवहार नहीं किया जा रहा है। यह सरासर मानवीय मूल्यों का उल्लंघन है।’
चारा घोटाले के मामले में सजायाफ्ता लालू यादव न्यायिक हिरासत के तहत खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं। बिरसा मुंडा जेल के अधीक्षक अशोक कुमार चौधरी और उनके अन्य सहयोगियों ने बताया कि रिम्स में लालू यादव के वार्ड और कक्ष की जांच की गई।
दरअसल बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने आरोप लगाया था कि लालू अपने राजनीतिक सहयोगियों के संपर्क में हैं और यह जेल नियमावली की अवहेलना है। सूत्रों ने बताया कि संभवत: इसी आरोप के मद्देनजर जेल के अधिकारी यह देखना चाहते थे कि जेल नियमावली का पालन हो रहा है या नहीं। जेल और पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वार्ड की जांच में कोई अवैध चीज नहीं बरामद की गई।