दीदी का धमाका = अभिनेत्री नुसरत जहां को टिकट

0
309

कोलकाता =लोकसभा चुनाव के सियासी रण में जीत हासिल करने पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने बशीरहाट सीट से अभिनेत्री नुसरत जहां को मैदान में उतार दिया है। पार्क स्‍ट्रीट रेप केस में विवादों में रहने वाली बंगाली फिल्‍म स्‍टार नुसरत जहां पर दांव लगाकर ममता बनर्जी ने एक साथ कई निशाने साधे हैं।
बीजेपी के इरादों पर पानी फेरने के लिए ममता ने बशीरघाट सीट से नुसरत जहां को टिकट दे दिया है। बताया जा रहा है कि बसीरहाट भी एक ऐसी सीट है जहां बीजेपी जीत की उम्‍मीद कर रही है। अब नुसरत जहां के जरिए ममता ने युवाओं और अल्‍पसंख्‍यकों को अपने पाले में लाने की कोशिश की है।
नुसरत जहां इन दिनों बंगाली फिल्‍म इंडस्‍ट्री में एक बेहद लोकप्रिय चेहरा हैं। कोलकाता की रहने वाली नुसरत जहां ने अपने छोटे से फिल्‍मी करियर में कई टॉप स्‍टार के साथ काम किया है। पेशे से मॉडल रह चुकी नुसरत जहां ने वर्ष 2011 में अपने करियर की शुरुआत जीत फिल्‍म से की थी। इसके बाद उन्‍होंने बोलो दुर्गा माई की, हर हर ब्‍योमकेश, जमाई 420 जैसी फिल्‍में कीं।
नुसरत जहां के सोशल मीडिया पर लाखों फॉलोवर हैं। दुर्गा पूजा पर बधाई देने पर कुछ समय पहले कट्टरपंथियों ने उन्‍हें ट्रोल किया था। वह राज्‍य सरकार की ओर से आयोजित होने वाले सभी सांस्‍कृतिक और राजनीतिक कार्यक्रमों में हिस्‍सा लेती रही हैं। नुसरत जहां को लोकसभा टिकट मिलने को लेकर बहुत कम लोगों को पता था लेकिन कुछ समय पहले उन्‍होंने इसका संकेत दिया था।
नुसरत जहां ने कहा, ‘राजनीतिक करियर की शुरुआत पर मैं बहुत रोमांचित महसूस कर रही हूं लेकिन यह बहुत बड़ी जिम्‍मेदारी देता है। मैंने कभी राजनीति में जाने के बारे में नहीं सोचा था।’
नुसरत जहां पार्क स्‍ट्रीट रेप कांड को लेकर काफी विवादों में रह चुकी हैं। इस रेप कांड के मुख्‍य आरोपी कादर खान की लंबे समय तक गर्लफ्रेंड रह चुकी नुसरत जहां का नाम चार्जशीट में नहीं आया था। बताया जा रहा है कि एक ऐंग्‍लो इंडियन महिला के साथ वर्ष 6 फरवरी, 2012 को पार्क स्‍ट्रीट पर चलती कार में रेप के बाद कादर खान को अरेस्‍ट कर लिया गया था। कादर और नुसरत एक-दूसरे से निकाह भी करने वाले थे। पुलिस ने नुसरत के साथ पूछताछ भी की थी।
पुलिस पूछताछ में नुसरत जहां ने कहा था कि वह कादर खान से नहीं मिली थीं लेकिन रेप कांड की जांच में खुलासा हुआ कि दोनों ने मुंबई में एक कमरा बुक किया था। इसके बाद नुसरत कोलकाता लौट आईं और कादर खान के लिए पटना के टिकट की व्‍यवस्‍था की। इस खुलासे के बाद कई वकीलों ने मांग की थी कि दोषी को संरक्षण देने के आरोप में नुसरत को गिरफ्तार किया जाए।