56 इंच की छाती वाले 1 मिनिट के लिए भी नहीं आ पाए लोकसभा में

0
93

जयपुर =राफेल, जनरल कोटा बिल और नागरिकता संशोधन विधेयक पर सदन में सियासी तकरार के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर निशाना साधा है। राजस्थान के जयपुर में एक सभा के दौरान राफेल मामले पर राहुल ने नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि 56 इंच की छाती वाले पीएम लोकसभा में एक मिनट के लिए भी नहीं आ पाए। यहां तक कि उन्होंने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण को सदन में अपनी रक्षा करने के लिए भेजा। और इस तरह जनता की अदालत से चौकीदार भाग गया।
नई सरकार बनने के बाद राजस्थान में बोलते हुए राहुल गांधी काफी जोश में नजर आए। उन्होंने किसानों की कर्जमाफी को लेकर अपनी पार्टी की तारीफ की और मोदी सरकार की खूब आलोचना की। राहुल ने कहा कि देश के किसान और युवा बैकफुट पर बैटिंग न करें, बल्कि फ्रंटफुट पर जाकर छक्का मारें।
राहुल गांधी ने सीबीआई मसले पर भी मोदी सरकार को सवालों के घेरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि रात के अंधेरे में सीबीआई डायरेक्टर (आलोक वर्मा) हटा दिए गए। केंद्र सरकार को झटका देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें फिर से बहाल कर दिया। राफेल मामले की जेपीसी से जांच होनी चाहिए। मोदी सरकार को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से मोदीजी ने छोटे दुकानदारों को नष्ट कर दिया। बैंक का सारा पैसा अनिल अंबानी और उनके दोस्तों को दे दिया। उन्होंने केंद्र सरकार पर सवाल दागते हुए कहा कि उन्होंने युवाओं, किसानों और छोटे दुकानदारों को कितना पैसा दिया?
अपने भाषण के दौरान राहुल काफी सख्त तेवर में दिखाई दिए। उन्होंने क्रिकेट की शब्दावली का इस्तेमाल करते हुए पीएम को कटघरे में खड़ा किया। राहुल ने कहा कि जब देश के युवा रोजगार मांगते हैं तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैकफुट पर खेलते हैं, लेकिन देश के किसानों और युवाओं को बैकफुट पर नहीं खेलना है। उन्हें फ्रंटफुट पर आकर छक्का मारना है। हिंदुस्तान के युवाओं और किसानों को डरने की जरूरत नहीं है।
कर्जमाफी पर उन्होंने कहा कि हमने दो दिन में किसानों का कर्ज माफ कर दिया। जो काम मोदी सरकार साढ़े चार साल में नहीं कर पाई, वो हमने दो दिन में कर दिखाया।