दो महिलाओं के प्रवेश के बाद सबरीमाला मंदिर का ‘शुद्धिकरण’,

0
58

तिरुवनंतपुरम =केरल के सबरीमाला स्थित भगवान अयप्पा के मंदिर के दरवाजे बंद कर दिए गए। बाद में मंदिर के कपाट खोल दिए गए। गौरतलब है कि दो महिलाओं ने दावा किया है कि उन्होंने बुधवार तड़के मंदिर में प्रवेश कर भगवान के दर्शन किए थे। बताया जा रहा है कि ‘शुद्धि’ के लिए दरवाजे बंद किए गए हैं। पिछले साल सितंबर में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद श्रद्धालु महिलाएं और सामाजिक कार्यकर्ता प्रवेश की कोशिश कर रही थीं, लेकिन सफल नहीं हो सकीं।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लगभग 40 साल की दो महिलाओं (बिंदु और कनकदुर्गा) के मंदिर में प्रवेश और भगवान के दर्शन के बाद मंदिर को ‘शुद्धि’ के लिए बंद कर दिया गया। उसके बाद दरवाजे खोल दिए गए। कड़ी सुरक्षा के बीच इन महिलाओं ने मंदिर के दर्शन किए थे। राज्य के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन इस बात की पुष्टि भी की थी। उन्होंने बताया था कि सरकार ने पुलिस को निर्देश दिए थे कि जो भी महिला मंदिर में प्रवेश चाहती है, उसे पूरी सुरक्षा दी जाए।
इन दोनों महिलाओं ने पिछले महीने भी मंदिर के दर्शनों की कोशिश की थी लेकिन आखिरकार 2 जनवरी को सुबह 3:45 बजे वे दर्शन कर सकीं। इससे एक दिन पहले ही वहां ह्यूमन चेन बनाने वाली महिलाओं, पुलिस और मीडिया पर भी बीजेपी-आरएसएस के कुछ कथित कार्यकर्ताओं ने पथराव किया। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर इन्हें मौके से तितर-बितर किया।