भाई से दरार की बात निराधार

0
92

पटना =राष्‍ट्रीय जनता दल के नेता और लालू प्रसाद यादव के बडे़ बेटे तेज प्रताप यादव ने अपने छोटे भाई तेजस्‍वी यादव के साथ रिश्‍तों में ‘दरार’ की खबरों को निराधार बताया है। आरजेडी के पटना स्थित प्रदेश मुख्यालय पर जनता दरबार लगाने वाले तेज प्रताप यादव ने कहा कि उनकी लड़ाई किसान, महिला और नौजवानों को ठगने वाली जनविरोधी सरकार से है।
तेज प्रताप यादव ने ट्वीट कर कहा कि वह जन विरोधी सरकार के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेंगे और परास्‍त करेंगे। रोक सको तो रोक लो…। तेज प्रताप ने सोमवार को कहा था कि यदि पार्टी की कमान उन्हें सौंपी गई तो वह पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने मीडिया से कहा, ‘पार्टी में कुछ आरएसएस जैसी सोच वाले लोग हैं लेकिन मुझसे व्यक्तिगत रूप से मिलने के बाद उनके विचार भी बदलेंगे। मुझे नहीं पता है कि वह क्या कह रहे हैं और क्यों कह रहे हैं। चुनाव आ रहे हैं और कई लोग बेकार में टिकट की चिंता करते हुए बोलने लगते हैं।’
उन्‍होंने यह भी कहा कि वह तेजस्वी यादव को बिहार का अगला मुख्यमंत्री बनाने के लिए काम करने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा, ‘मैंने सार्वजनिक तौर पर अपनी प्रतिबद्धता बहुत पहले जताई थी। मैंने महाभारत का प्रसंग भी दिया था, मैंने बार-बार कहा भी है कि तेजस्वी अर्जुन हैं और मैं कृष्ण की भूमिका निभाऊंगा। मैं उसका पथ प्रदर्शन करूंगा। कुछ लोग भाइयों के बीच दीवार खड़ी करना चाहते हैं।’
आरजेडी के पटना स्थित प्रदेश मुख्यालय पर जनता दरबार लगाने के बाद लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप ने कहा कि उन्हें छोटे भाई तेजस्वी यादव के जनता दरबार में आने से बेहद खुशी होगी। तेज प्रताप के अपने पिता लालू यादव के कमरे में जनता दरबार लगाने के बाद ऐसी अटकलें लगनी शुरू हो गई थी कि तेज प्रताप का अपने छोटे भाई तेजस्‍वी के साथ मनमुटाव चल रहा है। तेज प्रताप ने इसे अटकल को एक बार फिर से खारिज किया है।