बिहार में सीटों का बटवारा तय पासवान की दम काम आई

0
155

नई दिल्ली =बिहार में 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए एनडीए में सीटों का बंटवारा हो गया है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के आवास पर हुई बैठक के बाद बीजेपी-जेडीयू-एलजेपी की संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी घोषणा की गई है। इस बैठक में बिहार सीएम नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और उनके बेटे सांसद चिराग पासवान भी मौजूद रहे। इस घोषणा के बाद शाह ने जहां 2019 में 2014 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा किया, वहीं नीतीश कुमार ने कहा है कि एनडीए बिहार में 2009 से भी अधिक सीटें जीतेगी।
घर पर बैठक के बाद शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि लंबी चर्चा के बाद तय हुआ है कि बीजेपी, जेडीयू 17-17 और एलजेपी 6 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। शाह ने कहा, ‘रामविलास पासवान को आगे आने वाले राज्यसभा चुनाव में एनडीए का प्रत्याशी बनाया जाएगा।’ बीजेपी अध्यक्ष ने कहाा, ‘एनडीए की गठबंधन की स्ट्रेंथ को देखकर तीनों पार्टियों ने फैसला लिया है। जल्द ही एनडीए का राजनीतिक अजेंडा लोगों के सामने लेकर जाएंगे।’
इसके बाद नीतीश कुमार ने कहा कि ‘जब अमित शाह ने घोषणा कर दी तो उसके बाद कुछ बोलने की आवश्यकता नहीं है तो हम सब मिलकर आगे तय करेंगे। किस सीट पर कौन लड़ेगा। आज सीट शेयरिंग तय हो गई है।’ बिहार सीएम ने कहा, ‘हम बिहार में अच्छी सफलता हासिल करेंगे। मुझे जरूरत से ज्यादा बोलने की आदत नहीं है। 2009 में बिहार में बीजेपी और जेडीयू का गठबंधन था, बिहार में 40 में से 32 सीटें हमने हासिल की थीं। 2009 से भी ज्यादा सीटों पर जीतेंगे। हम लोग मिलकर सशक्त अभियान चलाएंगे।’
एनडीए में सीट शेयरिंग का फॉर्म्युला तय हो जाने के बाद पासवान भी काफी सहज नज आए। उन्होंने दावा किया कि गठबंधन पार्टियों के बीच सबकुछ ठीक था और आगे भी रहेगा। हालांकि पिछले दिनों उनके बेटे चिराग पासवान ने सीट शेयरिंग को लेकर बीजेपी पर दबाव बनाया था। इसके बाद पासवान के एनडीए से निकलने की आशंका भी जताई जा रही थी। रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में पासवान ने कहा कि ‘मैं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, नीतीश कुमार और अरुण जेटली को बहुत बहुत धन्यवाद देना चाहता हूं। हमारे अंदर कभी कुछ गड़बड़ नहीं थी। अगली बार फिर मोदी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनेगी। बिहार में 40 में से 40 सीटों का टारगेट है।’