पटना में पुलिस कर्मियों का उत्पात कमांडेंट का सर फोड़ा

0
88

पटना =बिहार की राजधानी पटना में कथित तौर पर एक महिला कॉन्स्टेबल की इलाज की कमी के चलते मौत हो गई। इस घटना के बाद पुलिसकर्मियों ने हंगामा मचाना शुरू कर दिया। यही नहीं, प्रदर्शनकारियों ने कमांडेंट पर हमला कर दिया, जिसकी वजह से उन्हें कई चोटें आई हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गुस्साए पुलिसकर्मियों ने कमांडेंट के सिर को निशाना बनाया, जिससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गए।
प्रदर्शनकारियों का दावा है कि कमांडेंट ने महिला को इलाज के लिए पर्याप्त छुट्टियां नहीं दीं। महिला कॉन्स्टेबल की मौत के बाद प्रदर्शनकारियों ने हंगामा करते हुए कमांडेंट की जमकर पिटाई की।
पुलिस के अनुसार, पटना पुलिस लाइन में एक महिला पुलिसकर्मी की बीमारी के बाद मौत हो गई। इस पर पुलिस लाइन के सभी पुलिसकर्मी आक्रोशित हो गए। उन्होंने उच्च पदाधिकारियों पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पुलिस लाइन में जमकर हंगामा किया। वहां खड़े सभी वाहनों में तोड़फोड़ की। हंगामा करने में कई महिला पुलिसकर्मी भी शामिल थीं।
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, गुस्साए पुलिसकर्मियों ने नगर पुलिस अधीक्षक, पुलिस उपाधीक्षक और सार्जेंट मेजर की भी पिटाई की। लाठी और डंडे से लैस पुलिसकर्मियों ने अधिकारियों को खदेड़ दिया और गाड़ियों को तोड़ डाला है। इस दौरान मीडियाकर्मियों को भी निशाना बनाया गया।
इसके बाद आक्रोशित पुलिसकर्मी सड़क पर उतर गए और हंगामा किया। आम लोग जब आक्रोशित हुए तब सभी पुलिसकर्मी पुलिस लाइन में लौट गए। इस दौरान दोनों ओर से पथराव हुआ। आक्रोशित पुलिसकर्मियों का आरोप है कि उन्हें छुट्टी तक नहीं दी जाती है। मृतका का भी छुट्टी न मिलने के कारण सही ढंग से इलाज नहीं हो पाया, जिससे उनकी मौत हो गई।
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। क्षेत्र में तनाव है लेकिन स्थिति नियंत्रण में है। घटनास्थल पर पहुंचे पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने कहा कि दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। पहली प्राथमिकता स्थिति को नियंत्रित करने की है।