राफेल मामले की अगर जांच हुई तो मोदी जेल जाएंगे

0
89

इंदौर =कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में अपने चुनावी दौरे के दूसरे दिन पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा अगर राफेल मामले की जांच होती है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जेल जाएंगे। बार-बार जनता के बीच ‘चौकीदार चोर है’ कहने के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा, ‘मोदी जी को भ्रष्ट सिर्फ कहा नहीं जा रहा है, बल्कि वह वाकई भ्रष्ट हैं। इस पर कंफ्यूजन नहीं होना चाहिए।’
उन्होंने आगे कहा, ‘राफेल केस एक खुला मामला है। जिस दिन से जांच शुरू हो जाएगा, पीएम मोदी को जेल कब भेजा जाएगा, सिर्फ इसी पर सवाल होगा और कुछ नहीं।’ उन्होंने कहा कि ऐसी संभावना है कि राफेल मामले में जांच फ्रांस में शुरू होने जा रही है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने के लिए हर प्रकिया और कानून का हनन किया है। उन्होंने आगे यह भी कहा, ‘यहां कई और ऐसे मामले हैं और वह राफेल से भी बड़े हैं।’
सबरीमाला विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर प्रतिक्रिया के सवाल पर राहुल ने कहा कि व्यक्तिगत रूप से उनका मानना है कि महिलाएं पुरुषों के बराबर हैं और उन्हें कहीं भी जाने की अनुमति होनी चाहिए। उन्होंने आगे कहा, ‘केरल में मेरी पार्टी की इस मामले पर राय वहां महिलाओं और पुरुषों के लिए बेहद भावनात्मक मुद्दे की तरह है और वहां महिलाएं भी इस विचार को समर्थन दे रही हैं।’
उन्होंनेकहा, ‘इसलिए इस मामले में मेरे और मेरी पार्टी के विचार अलग हैं लेकिन जैसा कि मेरी पार्टी केरल में वहां के लोगों का प्रतिनिधित्व करती है, तो मैं उनकी इच्छाओं को पेश करूंगा।’ राहुल गांधी ने राम मंदिर मुद्दे पर बीजेपी की तरफ से अध्यादेश लाए जाने की संभावना पर कहा कि सिर्फ यही एक चीज है जो बीजेपी कर सकती है। उन्होंने कहा, ‘और बचा क्या है? कुछ नहीं बचा है।’
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने खिलाफ बीजेपी के फैंसी ड्रेस हिंदूवाद के आरोप पर पलटवार करते हुए खुद को राष्ट्रवादी नेता बताया और कहा कि उन्हें मंदिर जाने के लिए बीजेपी के प्रमाणपत्र की आवश्यकता नहीं है। हालांकि, उन्होंने जोर देकर यह भी कहा कि वह हर धर्म और हर वर्ग के नेता हैं।
उन्होंने कहा, । मुझे मंदिर जाने के लिए बीजेपी से प्रमाणपत्र लेने की जरूरत नहीं है। मैं हिन्दू धर्म को बीजेपी से बेहतर समझता हूं।’ उन्होंने कहा, ‘बीजेपी का हिंदुत्व पर ठेका है लेकिन हिंदूवाद पर किसी का ठेका नहीं हो सकता, क्योंकि यह महान अवधारणा है और इस पर किसी एक समूह का कब्जा नहीं हो सकता।’ राहुल ने कहा, ‘हम हिंदुत्व में नहीं, बल्कि हिंदूवाद में यकीन रखने वाली पार्टी हैं।’