जिस बालक का कर दिया था अंतिमसंस्कार उसे अपने बीच देख परिवार का मातम खुशियों में बदला

0
259

इटावा = विगत दिवस एक गुमशुदा बालक गुलशन यादव जबलपुर सोमनाथ एक्सप्रेस में दिनांक 16 सितम्बर को को जी आर पी एवं चाइल्ड लाइन को मिला बालक को बाल कल्याण समिति ने प्राणी मित्र बालगृह के संरक्षण में रखने का आदेश दिया और उसके बाद से बालक की लगातार काउंसिलिंग की जा रही थी बालक के बताये पते इटावा उ0प्र0 में संस्था प्रभारी डाॅ. विनय पटेल ने स्थानीय विधायक रीता भदौरिया जी को वस्तु स्थिति से अवगत कराया। उन्होने पुलिस कोतवाली को सहयोग करने को कहा सतत् कोतवाली से संपर्क बनाये रखने के बावजूद बालक के परिवार का कही पता नही लग पा रहा था।
इसी बीच संस्था ने स्थानीय प्रधानपाठक आनंद नेमा को बालक की वस्तु स्थिति से अवगत कराया उन्होने इटावा के शिक्षण संवाद मंच को बालक की संपूर्ण जानकारी व विडियो शेयर किया जानकारी वायरल होने से बालक के संबधित स्कूल की जानकारी मिली इससे इटावा के विमल कुमार अवनीद जादौन फिरोजाबाद से जानकारी मिली की बालक यषोदा नगर इटावा में रहकर पढ़ता है लेकिन रहने वाला ग्राम सुखरोवा जिला फिरोजाबाद का है।
इधर बालक को परिवार के लोग लगातार खोज रहे थे लेकिन कही जानकारी नही मिलने पर बालक की गुमशुदा की रिपोर्ट इटावा के बलाई थाना में दर्ज की गई। लेकिन इस घटना क्रम में नया मोड़ तब आया जब सिरजागंज के बालक मंजीत का शव नदी के किनारे मिला पुलिस द्वारा परिवार को सूचना दी गई परिवार के लोग एक जैसी स्कूल ड्रेस व शक्ल मिलने से मान बैठे की बालक की मौत हो चुकी है। परिवार के सभी लोगो ने गमहीन महोल में बालक का अंतिम संस्कार 04 अक्टूबर को कर दिया गया । लेकिन 05 अक्टूबर को एक खबर वहां केसोशल मीडिया पर वायरल हुई की बालक नरसिंहपुर म0प्र0 के प्राणी मित्र बालगृह में है। बालक भोजपुरी गाने पर अच्छा डांस करता था। बालक के टेलेन्ट को प्राणी मित्र बालगृह ने समझा और रिकार्ड कर वायरल करवा दिया। बालक की फोटो व डांस देखकर परिवार के लोग भौंचक्के रह गये। उन्होने नरसिंहपुर जिले के पुलिस अधीक्षक से संपर्क किया और बालक को लेने आने को कहा। दूसरे दिन परिवार के लोग प्राणी मित्र बालगृह से संपर्क कर बालक और परिवार के लोग के मामा फूफा एवं ताऊ जी आये परन्तु बालक के परिवार से माता पिता नही आये तब बाल कल्याण समिति नरसिंहपुर ने फिरोजाबाद बाल कल्याण समिति के समझ प्रस्तुत करने का आदेश प्राणी मित्र बालगृह को दिया संस्था के प्रभारी डाॅ विनय पटेल ने मामले को संजीदगी से लेते हुये तुरंत बालक के साथ संस्था के प्रभारी डाॅ विनय पटेल एवं चन्द्रभान मेहरा परिवार के सदस्यो को लेकर नई दिल्ली एक्सप्रेस से फिरोजाबाद के लिये रवाना हुये।
जैसे ही बाल कल्याण समिति फिरोजाबाद के सामने बालक को उसके पिता से मिलवाया गया बालक के पिता की ख़ुशी का ठिकाना नही रहा बाप वेटे काफी देर तक रोते रहे बालक की मां का पूर्व में स्वर्गवास हो चुका है। बाल कल्याण समिति फिरोजाबाद के अध्यक्ष डाॅ. जफर आलम खान, सदस्य संगीता पाण्डेय, जगजीवनराम षर्मा ने मामले को संजीदगी से लेते हुए आवश्यक कार्यवाही कर बालक को परिवार के सुपुर्दग कर दिया गया ।
गुमशुदा बालक की प्राणी मित्र बालगृह द्वारा पुलिस अधीक्षक नरसिंहपुर को पत्र लिखा मामले को संजीदगी से लेते हुये वहां पदस्थ योगेष तिवारी ने वस्तु स्थिति को पुलिस अधीक्षक को अवगत कराया और उन्होंने भी इटावा जिले के पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर बालक को खोजने की बात कही। लेकिन वहां की पुलिस ने उतने गंभीरता से नही लिया। पुलिस अधीक्षक द्वारा शीघ्र कार्यवाही करने व बालक की खोजने में मदद करने पर संस्था के डाॅ विनय पटेल ने उनके प्रति आभार प्रकट किया है।