एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर के निर्माता धोखाधड़ी में गिरफ्तार

0
61

मुंबई = ‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के डायरेक्टर विजय रत्नाकर गुट्टे को जीएसटी इंटेलिजेंस द्वारा मुंबई में गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि उनपर 34 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है।
अंग्रेजी दैनिक इंडियन एक्सप्रेस में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, विजय गुट्टे के खिलाफ सेंट्रल गुड्स ऐंड सर्विस टैक्स ऐक्ट के सेक्शन 132(1)(C) के तहत मामला दर्ज किया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, विजय गुट्टे की कंपनी वीआरजी डिजिटल कॉर्प प्राइवेट लिमिटेड पर गलत इनवॉयस के जरिए 34 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है। उनकी इस कंपनी पर आरोप लगाया गया है कि एनिमेशन और मैनपावर के लिए दूसरी कंपनी (हॉरिजॉन आउटसोर्स सल्यूशंस प्रा. लि.) से 34 करोड़ के फेक इनवॉयस लिए। बताया गया है कि इस दूसरी कपंनी पर पहले से ही 170 करोड़ रुपए के जीएसटी फ्रॉड का आरोप है।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गुट्टे पड़ताल कर रहे अधिकारियों को सहयोग नहीं कर रहे और फिलहाल वह जुडिशल कस्टडी में हैं। गुट्टे को 14 अगस्त तक के लिए आर्थर रोड जेल भेज दिया गया है।
उल्लेखनीय है की लीड ऐक्टर अनुपम खेर वाली गुट्टे की फिल्म ‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ इसी साल 21 दिसम्बर को रिलीज़ होनी है, जिसमें वह पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भूमिका में नज़र आएंगे। इस फिल्म में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह उनकी पत्नी गुरशरण कौर, सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम, शिवराज पाटील, सीताराम येचुरी, प्रणब मुखर्जी, पीवी नरसिम्हा राव जैसे कई पॉलिटिकल किरदार नजर आने वाले हैं। यह फिल्म ‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ मनमोहन सिंह के मीडिया अडवाइजर रहे संजय बारू की किताब पर आधारित है।