मोदी और अमित शाह भी मुझे नहीं हरा सकते

0
112

हैदराबाद =ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह को चुनौती दी है कि वह हैदराबाद से चुनाव लड़कर दिखाएं। एआईएमआईएम अध्‍यक्ष ने दावा किया कि हैदराबाद सीट पर अगर कांग्रेस और बीजेपी मिलकर चुनाव लड़ें तो भी उन्‍हें हरा नहीं सकती हैं।
औवेसी ने कहा, ‘मैं चुनौती देता हूं कि कोई भी व्‍यक्ति हैदराबाद से एआईएमआईएम के खिलाफ चुनाव लड़े। मैं पीएम मोदी या अमित शाह को चुनौती देता हूं कि वह इस सीट से चुनाव लड़ें। मैं कांग्रेस को भी चुनौती देता हूं। यहां तक कि यदि ये दोनों पार्टियां मिलकर भी चुनाव लड़ें तो भी हमें हैदराबाद से हराने में सफल नहीं होंगी।’
लोकसभा चुनाव से पहले औवैसी बीजेपी और कांग्रेस पर हमलावर हैं। इससे पहले उन्‍होंने आरोप लगाया था कि बीजेपी और कांग्रेस दोनों हिंदू वोट बैंक के लिए परेशान हैं। असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘पिछले दिनों हुए कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने एक भी मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया। बीजेपी की ओर से लोकसभा में एक भी सांसद नहीं है। इससे यह साफ जाहिर होता है कि मुस्लिम समुदाय के सशक्तिकरण और विकास में बीजेपी को कोई दिलचस्पी नहीं है।’
ओवैसी ने कहा कि यही कांग्रेस के साथ भी है। दोनों पार्टियां (बीजेपी और कांग्रेस) हिंदू वोट बैंक के लिए परेशान हैं। असदुद्दीन ओवैसी ने मुख्तार अब्बास नकवी के बयान पर कहा, ‘तथ्य यह भी है कि मुस्लिम कभी वोट बैंक नहीं रहा है। मुस्लिमों को हमेशा वोट बैंक बताकर ठगा गया है।’ इससे पहले ओवैसी ने मुसलमानों से कहा था कि वे मुस्लिम उम्मीदवारों को ही वोट दें।
हापुड़ लिंचिंग मामले पर बोलते हुए ओवैसी ने कहा कि यह मुसलमानों के लिए मिलकर फाइट करने का समय है। हापुड़ में हाल ही में पशु चोरी के शक में एक मुस्लिम को इतना पीटा गया कि उसकी मौत हो गई। ओवैसी ने कहा, ‘मैं आपसे भीड़ में बैठने और कासिम की मौत पर रोने के लिए नहीं कह रहा हूं। मैं आपके जमीर को झकझोर रहा हूं। उठो और तैयार हो जाओ।’ उन्होंने कहा, ‘जो लोग धर्मनिरपेक्षता की बातें करते हैं, वे सबसे बड़े डाकू हैं। वे सबसे बड़े पाखंडी हैं जिन्होंने मुसलमानों को पिछले 70 वर्षों से इस्तेमाल किया है। उन्होंने हमें आतंक में रखा।’