विधानसभा महिला बीजेपी विधायक फूट फूट कर रोने लगी

0
208

भोपाल =मध्य प्रदेश विधानसभा में बीजेपी विधायक अपनी ही सरकार के एक मंत्री के खिलाफ प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए फूट-फूटकर रोने लगीं। बीजेपी विधायक नीलम मिश्रा ने एमपी के उद्योग मंत्री राजेंद्र शुक्ल पर परेशान करने का आरोप लगाया है। उन्होंने राज्य सरकार से गुजारिश करते हुए सुरक्षा मांगी। इस पर गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने विधायक को सुरक्षा का आश्वासन दिया है।
वहीं राजेंद्र शुक्ल ने खुद पर लगाए गए सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया। विधानसभा सत्र के दौरान रीवा जिले की सेमरिया सीट से विधायक नीलम मिश्रा राजेंद्र शुक्ला पर प्रताड़ना के आरोप लगाते हुए फूट-फूटकर रोने लगीं। इस पर जब उनसे बैठने को कहा गया तो उन्होंने कहा कि वह सुरक्षा मिलने के आश्वासन पर ही मानेंगी और तभी बैठेंगी।
नवभारत टाइम्स में उनके संवाददता अरुण दीक्षित की खबर के मुताबिक कहा जा रहा है कि नीलम काफी समय से राजेंद्र शुक्ल पर प्रताड़ना का आरोप लगा रही हैं। उन्होंने सदन में यह भी कहा कि अगर उन्हें विधायक पद से इस्तीफा देना पड़ा तो वह करेंगी। मामला पुरानी रंजिश का बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि एमपी के मंत्री राजेंद्र शुक्ल और नीलम मिश्रा के पति अभय मिश्रा के बीच काफी पुराना विवाद है।
अभय मिश्रा रीवा जिला पंचायत के अध्यक्ष हैं जो पहले बीजेपी नेता थे। हालांकि दो साल पहले सरकार के खिलाफ जिला पंचायतों की तरफ से आंदोलन किया था। इसके बाद उन्होंने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया था और कांग्रेस में शामिल हो गए थे। राजेंद्र शुक्ल की तरफ से अभय मिश्रा के खिलाफ कई मामले भी दर्ज कराए गए हैं। गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने सभी मामलों के जांच के आदेश दिए हैं।