मध्य प्रदेश में 60 लाख फर्जी वोटर

0
114

भोपाल =मध्य प्रदेश में जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं, वैसे-वैसे राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ती जा रही हैं। रविवार को मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमल नाथ के नेतृत्व में पार्टी नेता चुनाव आयोग के पास पहुंचे और फर्जी वोटर्स को लेकर शिकायत की। उनका कहना है कि राज्य में 60 लाख से ज्यादा फर्जी वोटर्स के नाम वोटिंग लिस्ट में दर्ज किए गए हैं।
कांग्रेस ने आरोप लगया है कि ये नाम जानबूझकर दर्ज किए गए हैं और उसके पीछे भारतीय जनता पार्टी का हाथ है। कमल नाथ ने कहा, ‘हमने चुनाव आयोग को सबूत दे दिया है कि लगभग 60 लाख फर्जी मतदाताओं के नाम वोटर लिस्ट में जोड़े गए हैं। यह नाम जानबूझकर लिस्ट में शामिल किए गए हैं। यह प्रशासनिक लापरवाही नहीं, प्रशासनिक दुरुपयोग है।’
कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘यह बीजेपी का किया धरा है। यह कैसे संभव है कि 10 साल में जनसंख्या सिर्फ 24 पर्सेंट बढ़ी जबकि वोटर्स की संख्या 40 पर्सेंट बढ़ गई? हमने हर विधानसभा में लिस्ट की जांच की। एक ही वोटर का नाम 26 लिस्ट में दर्ज है। कई विधानसभाओं में यह चीज हुई है।’
हालांकि, इस मुद्दे पर अभी चुनाव आयोग का कहना है कि उसने दो टीम जांच के लिए मध्य प्रदेश भेजा है। सात जून तक दोनों टीम अपनी रिपोर्ट सौंप देगी। गौरतलब है कि इसी साल के अंत में होने वाले मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस जमकर मेहनत कर रही है और वापसी करके 2019 में अपनी दावेदारी मजबूत करने की कोशिश में है।