मेहुल चौकसी ने भी जांच में शामिल होने से इंकार किया

0
102

नई दिल्ली =गीतांजलि जेम्स के प्रमोटर और नीरव मोदी के साथ मिलकर पीएनबी से फ्रॉड करने के आरोपी मेहुल चौकसी ने सीबीआई को पत्र लिखकर जांच में शामिल होने से इनकार किया है। 12,600 करोड़ रुपये के इस घोटाले में सह-आरोपी मेहुल ने जांच एजेंसी ने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए भारत आकर जांच में शामिल होने से मना कर दिया। चौकसी ने कहा कि फरवरी 2018 में उनका कार्डिएक का ऑपरेशन हुआ था, इसके चलते वह फिलहाल यात्रा करने की स्थिति में नहीं हैं।
मेहुल के पत्र पर जवाब देते हुए सीबीआई ने कहा, ‘चौकसी और नीरव ने अपनी लोकेशन के बारे में खुलासा नहीं किया है। उनसे अपनी लोकेशन साझा करने का कहा गया है। सीबीआई उनके किसी बहाने को नहीं चलने देगी।’
टाइम्स ऑफ़ इंडिया की खबर के मुताबिक हालांकि चोकसी ने यह नहीं बताया कि फिलहाल वह कहां हैं। इसके अलावा चौकसी ने व्यस्तता का भी हवाला दिया और कहा कि उन्हें अभी अपने कई कामों को पूरा करना है। पासपोर्ट सस्पेंड किए जाने को लेकर भी चोकसी ने अधिकारियों पर हमला बोला।
अपने पत्र में चौकसी ने लिखा, ‘मैं बताना चाहूंगा कि आखिर मुंबई के क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय ने यह नहीं बताया कि मेरा पासपोर्ट क्यों सस्पेंड कर दिया गया। मैं जानना चाहता हूं कि आखिर मैं भारत के लिए खतरा क्यों हूं।’ गौरतलब है कि पीएनबी फ्रॉड उजागर होने के बाद 16 फरवरी को विदेश मंत्रालय ने मेहुल चौकसी और नीरव मोदी के पासपोर्ट को सस्पेंड कर दिया था।