बीजेपी के साथ होते तो वे राजा हरिश्चंद्र होते

0
66

पटना= बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव अपने पिता पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद यादव के जेल जाने से बेहद नाराज है उनका मानना है की विपक्ष अगर ये सोच रहा है कि जेल जाने से उनके पिता और आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का सफर खत्म हो गया, तो यह उसकी बहुत बड़ी गलतफहमी है। बिहार की जनता उग्र है और वह विपक्ष को इसका करारा जवाब देगी। तेजस्वी ने यह भी कहा कि अगर उनके पिता बीजेपी के साथ होते तो वह उनके लिए ‘राजा हरिश्चंद्र’ होते।
उल्लेखनीय है की लालू प्रासाद्यादव को चारा घोटाले के एक अन्य मामले में रांची की सीबीआई कीविशेष अदालत ने दोषी माना है और उनके सजा 3 जनवरी को सुनाई जाएगी दोषी ठहराए जाने के बाद लालू प्रसाद यादव बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं। 3 जनवरी को सजा का ऐलान होना है।
लालू के पुत्र तेजस्वी ने कहा कि यह विपक्ष की बड़ी गलतफहमी है, अगर वह सोच रहा है कि मेरे पिता के जेल जाने से सबकुछ खत्म हो गया। तेजस्वी ने कहा कि आने वाले समय में विपक्ष को इसका करारा जवाब मिलेगा। तेजस्वी ने आरोप लगाया है कि प्रदेश की नीतीश सरकार और केंद्र की बीजेपी सरकार उनके पिता की छवि खराब कर रही है।
आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने भी कहा है कि लालू राजनीतिक साजिश के शिकार हुए हैं। सिंह ने कहा कि इस फैसले के खिलाफ हाई कोर्ट में लड़ेंगे और बीजेपी को हराएंगे।