ऋषिकपूर और फारूख अब्दुल्ला के खिलाफ बिहार में एफआईआर

0
50

पटना =फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर तथा जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ नफरत, धार्मिक विद्वेष तथा राष्ट्रीय एकता को खण्डित करने के आरोप में बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस बारे में नगर थाना के प्रभारी नित्यानंद चौहान ने बताया कि बेतिया के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के आदेश पर फारूक अब्दुल्ला और अभिनेता ऋषि कपूर के खिलाफ अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गई है।
प्राथमिकी में ऋषि कपूर और फारूक अब्दुल्ला पर नफरत, घृणा, धार्मिक विद्वेष फैलाने तथा राष्ट्रीय एकता को खण्डित करने के आरोप लगाए गए हैं। उन्होंने बताया कि शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। उल्लेखनीय है कि बेतिया जिले के अधिवक्ता मुराद अली ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में पिछले दिनों एक परिवाद दायर किया था। इस परिवाद पत्र में उन्होंने कहा कि फारूक ने देश की अखंडता को तोड़ने वाला और विधि द्वारा स्थापित सरकार के खिलाफ द्वेष पैदा करने वाला बयान दिया है जिसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।
इसके अलावा ऋषि कपूर के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में आरोप है कि उन्होंने फारूक अब्दुल्ला के बयान पर ट्वीट कर कहा, ”फारूक अब्दुल्ला जी सलाम, मैं आपसे पूरी तरह सहमत हूं। जम्मू एवं कश्मीर हमारा है और पीओके उनका। सिर्फ इसी तरीके से हम समस्या को हल कर सकते हैं। पीओके पाकिस्तान का है और यह नहीं बदलने वाला, चाहे भारत-पाक एक-दूसरे से कितने भी युद्ध लड़ लें।’ इस परिवाद पत्र की सुनवाई के बाद अदालत ने नगर थाना प्रभारी को प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच करने का आदेश दिया था।