महिला कांस्टेबल ने सेक्स चेंज करने हाईकोर्ट में अर्जी दी

0
77

मुंबई =महाराष्ट्र पुलिस की 29 वर्षीय महिला कॉन्स्टेबल ने सेक्स चेंज कराकर पुरुष कॉन्स्टेबल के रूप में नौकरी करते रहने के अनुरोध को पुलिस अधिकारियों की तरफ से ठुकराए जाने के बाद अब हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। कॉन्स्टेबल ललिता साल्वी ने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका डालकर सेक्स चेंज कराने और नौकरी को जारी रखने की अनुमति मांगी है।
इससे पहले महाराष्ट्र पुलिस मुख्यालय ने बीड पुलिस में तैनात महिला कॉन्स्टेबल ललिता साल्वी के अनुरोध को ठुकरा दिया था। इस मामले में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राजेंद्र सिंह ने कहा था कि पुलिस मैन्युअल, पुलिस भर्ती के नियम और सेवा नियम हमें कोई भी सकरात्मक उत्तर देने से रोकते हैं।
सिंह ने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस के इतिहास में यह अपनी तरह का पहला मामला है। सभी कानूनी आधार को देखते हुए हमने बीड पुलिस को अपना उत्तर भेज दिया है।उधर, बीड के एसपी जी श्रीधर ने भी इसकी पुष्टि करते हुए कहा था कि उन्हें महिला कॉन्स्टेबल की याचिका को खारिज करने का पत्र मिल गया है। पुलिस अधिकारियों की तरफ से अनुरोध को ठुकराए जाने के बाद साल्वे ने अब हाई कोर्ट से सेक्स चेंज की इजाजत देने की अपील की है।
कॉन्स्टेबल ललिता साल्वी ने अपने अधिकारियों और से सेक्स चेंज सर्जरी की अनुमति मांगी थी। साल्वी ने यह भी कहा था कि वह सर्विस में बने रहना चाहती हैं। साल्वी ने 2009 में महाराष्ट्र पुलिस जॉइन की थी और करीब दो महीने पहले उन्होंने सेक्स चेंज की अनुमति के लिए यह आवेदन किया है। मजालगांव में पोस्टेड साल्वी ने अपने अधिकारियों को बताया कि उन्हें ‘जेंडर आइडेंटिटी डिसऑर्डर’ है।
दरअसल, साल्वी ने अपनी शारीरिक बनावट में ऐसे बदलाव महसूस किए जो सिर्फ पुरुषों में होते हैं। इसके बाद उसे लगा कि वह एक पुरुष के रूप में ज्यादा सहज है। साल्वी के इस कदम को उसके परिजनों का साथ मिला है।