पुतिन के राजनीती से संन्यास लेने की ख़बरें

0
30

मॉस्को =रूस के राष्ट्रपति और दुनिया के सबसे ताकतवर नेताओं में से एक व्लादिमीर पुतिन अब राजनीति से संन्यास लेने के बारे में सोच रहे हैं। रूस में अगले साल चुनाव होने वाले हैं और संभवतः वह अगला चुनाव नहीं लड़ेंगे। ‘द इंडिपेंडेंट’ के मुताबिक, पुतिन अब काफी थक गए हैं और वे दोबारा चुनाव प्रचार जैसे थकाऊ काम में शामिल नहीं होना चाहते हैं। इसलिए अब वह मार्च में होने जा रहे चुनावों से दूरी बनाने पर विचार कर रहे हैं।
पुतिन साल 2000 में सत्ता में आए थे और तबसे अब तक उन्होंने 3 चुनाव जीते हैं। खबर यह भी है कि पुतिन अब अपनी 160 अरब पाउंड यानी 13 हजार 731 अरब रुपये की संपत्ति को खर्च करना चाहते हैं और उसके लिए उन्हें समय चाहिए। ऐसा माना जा रहा है कि गुपचुप तरीके से पुतिन दुनिया के सबसे अमीर शख्सियतों में से एक बन गए हैं।
पुतिन के पास लगभग ढाई अरब रुपये की एक नाव है जो उन्हें गिफ्ट में मिली थी। इतना ही नहीं वह एक पैलेस के भी मालिक हैं जिसकी कीमत तकरीबन 69 अरब रुपये हैं। पुतिन के राजनीतिक विरोधी बोरिस नेमस्तोव ने एक डॉजियर में जानकारी दी थी कि पुतिन के पास 58 प्लेन और हेलिकॉप्टर्स के साथ ही घड़ियों का ऐसा कलेक्शन है जिनकी कीमत 32 करोड़ रुपये से पार है। डॉजियर के मुताबिक पुतिन के पास 20 पैलेस और होटल हैं। दस्तावेजों में ‘टेलिग्राफ’ के हवाले से लिखा गया है कि पुतिन के प्राइवेट जेट में करीब 35 लाख रुपये का टॉइलट है।
लेकिन नेता रहते हुए पुतिन अपने इस ऐशो-आराम भरी जिंदगी को जी नहीं पा रहे हैं। साल 2000 में रूसी फंड मैनेजर और लेखक बिल ब्रॉडर ने सीएनएन को बताया था कि पुतिन की के पास कुल 13 हजार अरब रुपये की संपत्ति है। लेकिन हैरानी की बात यह है कि पुतिन कभी भी फोर्ब्स की दुनिया में सबसे अमीर लोगों की सूची में शामिल नहीं किए गए।
पुतिन ने हालांकि अप्रैल 2015 में खुद के पास इतनी संपत्ति होने की बातों को खारिज करते हुए कहा था कि उनके पास सिर्फ 80 लाख रुपये की संपत्ति है, जो उन्होंने राष्ट्रपति पद पर रहते हुए मिली सैलरी, दो फ्लैटों के मालिक होने और एक कार पार्किंग से कमाई है।