मोदी के कार्यक्रम में बिहारी बाबू को न्योता नहीं

0
74

पटना – 14 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी दिवस समारोह में हिस्सा लेंगे। मोदी के आगमन पर पटना साहिब से सांसद और बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने स्वागत की बात कही और इसे पटना यूनिवर्सिटी के लिए गर्व का पल बताया। हालांकि शत्रुघ्न ने मीडिया से बातचीत में साफ किया कि इस दौरान वह कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेंगे।
पटना यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र रह चुके शत्रुघ्न ने इसके पीछे वजह कार्यक्रम का न्योता न मिलने की बात बताई। शत्रुघ्न ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के जरिए पीएम मोदी को पटना आने पर बधाई दी। शत्रुघ्न ने लिखा, ‘बिहार और खासकर पटना के लोगों की तरफ से मैं शनिवार को मेरे गृह जनपद और संसदीय क्षेत्र आने के लिए पीएम का स्वागत करता हूं।’
पटना सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के साथ ही बीजेपी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिंह को भी इस समारोह का न्योता नहीं मिला है। बताया जा रहा है कि शत्रुघ्न के तल्ख बयानों के चलते पार्टी के कुछ नेता उनसे नाराज हैं। उनकी इमेज ऐसी है कि वह अपनी ही पार्टी की आलोचना के लिए जाने जाते हैं। वहीं यशवंत सिन्हा के जीएसटी और अर्थव्यवस्था को लेकर पार्टी से मतभेद पिछले दिनों खुलकर सामने आए थे।
तब अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर यशवंत सिन्हा के विचारों का समर्थन करने के बाद बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आगे आने और लोगों का सामना करने की सलाह दी थी। शत्रुघ्न ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा था, ‘यह सही समय है जब प्रधानमंत्री और इस लोकतंत्र के प्रमुख को सामने आना चाहिए और लोगों का सामना करना चाहिए। उन्हें एक वास्तविक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवालों के जवाब देने चाहिए।’
यही नहीं शत्रुघ्न ने टीवी चैनलों को दिए इंटरव्यू में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह के ऊपर लग रहे आरोपों पर निष्पक्ष जांच की बात कही थी। शत्रुघ्न ने कहा था कि जब जय शाह पर इतने गंभीर आरोप लग रहे हैं तो उसे दबाने की कोशिश करने के बजाय सच को आगे आना चाहिए और जांच की बात होनी चाहिए।