कंही मेरी हत्या न करवा दी जाए

0
44

दिल्ली= दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री और आम आदमी पार्टी से निलंबित नेता कपिल मिश्रा ने एक बार फिर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर बड़े आरोप लगाए हैं। शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेस कर उन्होंने केजरीवाल पर हवाला कारोबार में शामिल होने का आरोप लगाया और इस्तीफा देने की मांग की।
कपिल ने आप के चंदे को लेकर अपने पिछले आरोपों के जवाब में अरविंद केजरीवाल और आप पार्टी के सदस्यों द्वारा शेयर किए मुकेश कुमार नाम के व्यक्ति के विडियो को झूठा बताया। उन्होंने हेमप्रकाश शर्मा नाम के व्यक्ति का जिक्र किया और कहा कि उसे बचाने के लिए केजरीवाल और आप ने मुकेश कुमार को आगे कर दिया। कपिल ने पार्टी को चंदा देने वाली कंपनियों के लेटरहेड को लेकर आरोप लगाया कि ये घर में बैठकर बनाए गए लेटरहेड हैं। उन्होंने कहा कि चंदे से जुड़े सनविजन कंपनी के लेटरहेड पर किया गया साइन मुकेश कुमार का नहीं है। कपिल ने यह भी आशंका जताई कि अरविंद केजरीवाल, आम आदमी पार्टी और उसके सदस्यों पर लगाए आरोपों की वजह से कहीं उनकी हत्या न करवा दी जाए।
कपिल के मुताबिक, केजरीवाल ने कहा था कि उन्हें नहीं पता कि उनकी पार्टी का चंदा कहां से आया। कपिल ने कहा कि केजरीवाल अब इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को बताएं कि दो करोड़ कहां से आए। उन्होंने चंदे की तारीख को लेकर दावा किया कि वह एमसीडी इलेक्शन से एक दिन पहले ही दिया गया। उन्होंने कहा कि जिस समय मुकेश कुमार ने पार्टी को चंदा दिया, उस समय वह उस कंपनी में थे ही नहीं। कपिल ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने मुकेश कुमार के दावे को लेकर बेसिक जांच नहीं की। उन्होंने कहा कि अच्छा हुआ भगवान ने यह विडियो केजरीवाल से शेयर करवाया।
कपिल ने कंपनियों को फर्जी बताते हुए कहा कि ये दस साल नहीं चल रही हैं। उन्होंने बाकी कंपनियों के दस्तावेजों को भी फर्जी बताया। उन्होंने मुकेश कुमार की एक कंपनी एसकेएन असोसिएट के बारे में एक विडियो के जरिए दावा किया कि यह फर्जी है। विडियो में फर्जी कंपनी से संबंधित बिल्डिंग को दिखाया गया है, जिसके बारे में आसपास के लोगों से पूछताछ दिखाई गई है। उन्होंने बताया कि उनके सहयोगी नील ने यह स्टिंग खुद किया है। कपिल ने कहा कि ‘मुकेश बैंक डिफॉल्टर हैं। विभाग ने उनकी बिल्डिंग की मुनादी कर दी थी’। उन्होंने कहा, ‘वह (मुकेश) वैट नहीं देता, टैक्स नहीं देता लेकिन दो करोड़ का चंदा देता है।’ कपिल ने केजरीवाल पर सरकारी ताकत के दुरुपयोग का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यह कंपनी जनवरी 2014 में बंद होनी चाहिए थी, लेकिन अभी तक चल रही है। कपिल ने कहा कि यह अभी तक का सबसे बड़ा ‘पब्लिक करप्शन’ का मामला है।

New Delhi: AAP MLA Kapil Mishra addressing a press conference against Delhi CM Kejriwal and Health Minister Satyender Jain, in New Delhi on Monday. PTI Photo by Vijay Verma (PTI5_8_2017_000183B)
दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री ने कहा कि हेमप्रकाश शर्मा को बचाने के लिए पार्टी ने मुकेश कुमार को सामने कर दिया। उन्होंने हेमप्रकाश शर्मा को ‘फर्जी’ बताया और कहा कि उसे कई ‘विभाग ढूंढ रहे हैं लेकिन वह किसी को नहीं मिलता, केवल अरविंद केजरीवाल को मिलता है’। कपिल के मुताबिक, ‘हवाला का इससे बड़ा घोटाला नहीं हुआ’। उन्होंने नोटबंदी को लेकर कहा कि ‘अरविंद केजरीवाल इसलिए बौखलाए हुए थे क्योंकि जहां-जहां छापे पड़ रहे थे वहां-वहां उनके लोग बैठे हुए थे’। आप के सदस्यों के विदेशी दौरों को लेकर उन्होंने कहा कि अगर इन विदेशी दौरों की जानकारी सामने आ जाए तो अरविंद केजरीवाल को हिंदुस्तान छोड़ना पड़ जाएगा। कपिल के साथी नील ने शिवचरण गोयल, मुकेश कुमार, नरेश यादव, हेमप्रकाश शर्मा को नेक्सस का हिस्सा बताया और कहा कि केजरीवाल अगर एक और झूठ बोलेंगे तो वह एक और बड़ा खुलासा करेंगे। इस बीच खबर आई है कि लोकायुक्त कपिल मिश्रा से नाराज हैं। उन्होंने कहा कि कपिल मिश्रा अपनी प्रेस कांफ्रेंस को तुरंत खत्म कर उनके यहां पेश हों।

इससे पहले कपिल मिश्रा ने सीएम केजरीवाल को एक्सपोज करने की धमकी देते हुए कहा था, ‘अरविंद केजरीवाल ने एक विडियो रीट्वीट कर वायरल किया है, उनके इस झूठ का पर्दाफाश करूंगा।’ कपिल मिश्रा लगातार सीएम केजरीवाल के खिलाफ अलग-अलग आरोप लगा रहे हैं। गुरुवार को भी उन्होंने ट्वीट के जरिए सीएम के खिलाफ अपनी बात रखी और उन्हें एक्सपोज करने की धमकी दी। कपिल ने अपने ट्वीट में आप विधायकों से प्रार्थना की थी कि वे यह एक्सपोज जरूर देखें।