राहुल का भाषण किसने लिखा था- सस्पेंस

0
29

नई दिल्ली -‘ये सूट-बूट की सरकार है। आपकी सरकार बड़े लोगों की सरकार है।’ इन शब्दों के साथ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने लोकसभा में मोदी सरकार पर सोमवार को जोरदार हमला बोला। पिछले साल के चुनावों के बाद पहली बार राजनीतिक रूप से ऐक्टिव हुए राहुल ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार उद्योगपतियों के लिए किसानों को नजरंदाज कर रही है। पिछले दो दिनों में राहुल के बदले तेवर और तीखी भाषण शैली के बाद कांग्रेस के हलकों में भी सवाल पूछे जा रहे हैं कि उनका भाषण किसने लिखा था।
इकोनोमिक टाइम्स की खबर के मुतबिक राहुल ने भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को उनके उस बयान के लिए आड़े हाथों लिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि किसानों को ‘भगवान’ या ‘सरकार’ के आसरे नहीं रहना चाहिए। ‘सूट-बूट की सरकार’ वाले राहुल के बयान पर जब बीजेपी सांसदों ने ऐतराज जताया, तो राहुल ने कहा, ‘चलो सूट की बात खत्म हो गई है। आपने उसे नीलाम कर दिया है। अब मैं उसकी बात नहीं करूंगा। अब तो खुश?’ राहुल ने आगे कहा, ‘मोदी को उद्योगपतियों और ताकतवर लोगों का साथ छोड़कर किसानों और मजदूरों के पाले में आ जाना चाहिए। इससे बीजेपी को फायदा होगा।’
राहुल ने अपनी बात आंकड़ों के आधार पर जोरदार ढंग से रखी और खेती-बाड़ी पर खासा फोकस किया। राहुल के भाषण में एक बड़ा राजनीतिक संदेश तो था ही, वह इस लिहाज से भी अहम था कि करीब एक दशक के संसदीय जीवन में यह संसद में उनका चौथा ही भाषण था। लोकसभा में राहुल के इर्द-गिर्द ज्योतिरादित्य सिंधिया, गौरव गोगोई, राजीव साटव, अशोक चव्हाण और कुछ अन्य प्रमुख कांग्रेसी नेता मौजूद थे, जो समय-समय पर उन्हें सलाह दे रहे थे। कांग्रेस के सूत्रों ने कहा कि राहुल उनके नेता हैं और अगर वह अपने सहयोगियों से मार्गदर्शन ले रहे हैं तो इसमें बुरा क्या है।
राहुल का भाषण पूरा होने के बाद सिंधिया ने टीवी चैनलों से कहा, ‘उन्होंने उन्हें (बीजेपी) को चुप कर दिया था।’ राहुल के भाषण के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि अपने बेटे के भाषण से वह खुश हैं। कांग्रेस नेताओं ने दावा किया कि अब उन्होंने बीजेपी को बैकफुट पर धकेल दिया है। राहुल ने जब बीजेपी पर आरोप लगाया कि उसकी सरकार के मंत्री अलग-अलग तथ्य परोसते रहते हैं तो कांग्रेस सांसदों ने खुशी में मेजें थपथपाईं।
इस बीच, कांग्रेस के सीनियर नेता राहत की सांस ले रहे हैं कि राहुल ने पहले से बनाई गई स्क्रिप्ट के मुताबिक अच्छा प्रदर्शन किया। कांग्रेस में अब सवाल पूछा जा रहा है कि आखिर उनका भाषण लिख कौन रहा है? ऐसा माना जाता है कि अभी तक मोहन गोपाल या फिर सैम पित्रोदा राहुल के भाषण लिखते रहे हैं। हालांकि, इस बार चर्चा है कि उनके भाषण के पीछे कोई युवा नेता है। सबसे ज्यादा नाम कांग्रेस के मीडिया विभाग के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला के लिए जा रहे हैं।