13.7 C
Jabalpur, IND
Tuesday, February 18, 2020

मध्यप्रदेश

अपनी ही सरकार के खिलाफ सिंधिया के तीखे तेवर नरम पड़े

भोपाल = मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयान से गरमाई राजनीती में कोआर्डिनेशन कमेटी की बैठक ने...

बिहार

तेजस्वी यादव पर धमकी देने का आरोप, आडिओ वायरल

नई दिल्ली= राष्ट्रीय जनता दल के नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर अभिनंदन कुमार नाम के एक व्यक्ति...

नगर निगम के करों  का भुगतान हर नागरिक की जिम्मेदारी

किसी भी शहर का विकास  उस शहर  के करदाताओं  दिए गए  करों से ही संभव हो पाता है, नगर निगम यदि शहर की जनता को सार्वजनिक रूप से पानी, बिजली, सफाई  जैसी स्थाई   व्यवस्थाएं  प्रदान करता है तो  ये कैसे संभव होता है, जाहिर है जोटेक्स  उसे मिलते है उनसे ही ये  व्यवस्थाएं  हो पाती है यदि नगर निगम को टेक्स न मिले तो उसके लिए ये व्यवस्थाएं कर  पाना असंभव हो  जाएगा,  किसी भी शहर का जिम्मेदार नागरिक वो ही होता है जो नियमानुसार नगर निगम के  करों का भुगतान सही  तरीके से और सही वक्त पर करता है  क्योकि वो भी ये जानता है की बिना टेक्स के उसे जो  सुविधाएँ  नगर निगम द्वारा मुहैया करवाई जा  रही हैं  वे संभव नहीं हो पाएगी,  सफाई व्यवस्था,  स्ट्रीट लाइट, पीने का पानी  जैसी  सुविधाओं के लिए  में  नगर निगम को करोड़ों रुपया खर्च करना पड़ता है इधर उसे अपने कर्मचारियों को वेतन भी देना है निशुल्क शव वाहन  जैसी  व्यवस्था भी उसके जिम्मे है राज्य शासन से एक निश्चित राशि ही उसे मिल पाती है  बकाया राशि की व्यवस्था उसे अपने स्तर पर ही करना होती है. आम आदमी की हर सार्वजनिक समस्या नगर निगम  से ही जुडी होती है और  उन्हें इन तमाम चीजों के लिए एक बड़ी  धनराशि  नगर निगम के पास होना जरूरी है इसलिए  शहर के हर  करदाता का ये कर्तव्य है कि वो नगर निगम द्वारा लगाए करों का भुगतान समय पर  कर  उसे मजबूत करे,  आएं  हम संकल्प लें की हम बिना किसी नोटिस के नगर निगम द्वारा लगाए गए करों का भुगतान कर  एक अच्छे  और सजग नागरिक होने का सबूत पेश करेंगे
Free WordPress Themes, Free Android Games